सिविल सेवा दिवस के लिए सत्रः भारत में सिविल सेवा के विषय और चुनौतियां

Session for Civil Services Day: Context and Challenges of the Civil Services in India
Last Date Apr 07,2015 18:30 PM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

हर साल 21 अप्रैल को सिविल सेवा दिवस का आयोजन किया जाता है, जहाँ सिविल ...

हर साल 21 अप्रैल को सिविल सेवा दिवस का आयोजन किया जाता है, जहाँ सिविल सेवक नागरिकों के हितों के लिए खुद को पुनःसमर्पित करते हैं और सार्वजनिक सेवाओं के लिए अपनी प्रतिबद्धता एंव नवीनीकृत को दोहराते है। इस श्रृंखला के 9 वें सिविल सेवा दिवस का आयोजन विज्ञान भवन नई दिल्ली में 20-21 अप्रैल, 2015 को किया जा रहा है।

इस सम्मेलन का उद्देश्य सिविल सेवा के महत्वपूर्ण पहलुओं पर विचार करना, चर्चा करना और सुझावों का आदान प्रदान करना है। किसानों पर प्रस्तावित सम्मेलन के लिए निम्नलिखित विषयों पर सिविल सेवकों और जनता से सुझाव मांगें जा रहे हैः

1. सिविल सेवा को पिछले वर्षों में कैसे विकसित किया गया है? सेवा वितरण के प्रतिमान को कैसे बदल गया है और कथित परिवर्तन कैसा है?

2. हम किन मूल्यों का प्रतिनिधित्व करते हैं? लोग हमसे क्या उम्मीद करते हैं? हमारे साझा मूल्य क्या होने चाहिए?

3. वर्तमान संदर्भ में सिविल सेवक किन चुनौतियों का सामना कर रहे हैं? क्या नौकरी की सुरक्षा सिविल सेवाओं को प्रभावित करती है?

4. सिविल सेवा समाज और लोगों को बेहतर बनाने के लिए कैसे योगदान कर सकती हैं? मूल मानक क्या होने चाहिए? सिविल सेवकों को जागरुप और निपुण करने के लिए नई सीमाएं क्या हैं?

See Details Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
68 सबमिशन दिखा रहा है
1880
Gokul Raj 4 साल 2 महीने पहले

certificate with validation (if The requirement for ias post is 1000 then those who holds the rank from 1001 to 1250) 25% of the requirement' who didn't got selected but talent is there should be provided a certificate with validity mentioning that the certificate holder is almost eligible for selection. those who holds certificate should be given priority low level government job. even this certificate helps him for private jobs. his time spent on ias Coaching will not get wasted.

1880
Gokul Raj 4 साल 2 महीने पहले

in civil service exam' one exam for 24 posting is not Good... there should be separate exam for each and every post. my friend who has Finished medical got selected as IRS and he has no knowledge of accounts. so obviously our country lost a good doctor and got a bad IRS officer.

5970
shashank Bansal 4 साल 3 महीने पहले

??? ?? ??????? ???????
?? ???? ???? ??? ?? ??? ???? ??? ??,
???? 12 ???? ?? ???? ????? ??????? ???
??? ???? ??????.... !!
? ??? ?? ?????? ?? ???? ???? ??? ??
??? ???? ??? ?? ???? ??????????? ??
?????? ??? ?? ???? ??????....!!
? ??? ?? ??????????????
?? ???? ???? ??? ?? ??? ???? ???
?? ???? ????? ?? ???? ???
?? ?????? ??????....!!
? ??? ?? "????" ???? ???? ??? ?? ???
???? ??? ??, ???? ????? ??
???? ?????? ?? ?? ???
??? ???? ??????.... !!
? ??? ?? "??????" ?? ???? ???? ??? ??
??? ???? ?? ??... ???? ?? ????????
??????? ?? ????? ??? ??? ??? ???
???? ??????....!!
? ??? ?? "???????" ?????? ???? ??? ??
??? ???? ??? ??, ???? ????????
???? ??????, ?????? ?????, ???
???? ?????? ?? ???? ??? ???? ???? ??
??? ?????????....!!
??
? ??? ?? padosi desh se ?? ?? ?? "??????"
???? ?? ???? ??? ?? ??? ???? ??? ??,
?? ???? ????? ??:
1. ?? ???? ?????,
2. ?? ????????,
3. ?? ??????? ?? ???????,
4. ?????? ????? ?????,
5. ??????? ?????,
6. ????? ??????? ????? ?? ????,
7. ?? ?? ?? ?????? ?? ???,
8. ????? ??????,
9. ????? ????????? ??????,
10. ?? ?????? ??? ?? ???????,
11. ?? ????????.
12. ?? ???????? ???? ??????
???????????? ?? ?? ???? ?? ???
?????????????? ?? ???? ?????
?? ??????.....
13. ?? ???? ?? ?? ????..... Indians?
?? ????? ?? ?????, ??? ?????
?? ??????...

660
Vasu MOOTTU KUZHIYIL 4 साल 7 महीने पहले

Our prime Minister has was telling several things in the conference of Chief Ministers and Chief Judges of high courts of india. Prime Minister did not utter a single word regarding the action to be taken by the Govt to clear the backlog of pending cases. there are Several judges who simply passing their time without disposing the cases. All the vacancies of Judges in High Courts and supreme courts must be filled up. Action should be taken against judges who delay disposal of Cases.

2620
Samsul Akhtar 4 साल 7 महीने पहले

IEEE is having the biggest database of papers and journals. All those papers are accessible only to it's members and on a payment basis. Why are they not providing the information free of cost? Dont you feel information and knowledge are to be shared? Like we get free inspiration from ted. Modi Govt can help us to register and free access of IEEE ?