सिविल सेवा दिवस के लिए सामाजिक क्षेत्र पर सत्र

Session on  Social Sector for Civil Service Day
Last Date Apr 07,2015 18:30 PM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

हर साल 21 अप्रैल को सिविल सेवा दिवस का आयोजन किया जाता है, जहाँ सिविल ...

हर साल 21 अप्रैल को सिविल सेवा दिवस का आयोजन किया जाता है, जहाँ सिविल सेवक नागरिकों के हितों के लिए खुद को पुनःसमर्पित करते हैं और सार्वजनिक सेवाओं के लिए अपनी प्रतिबद्धता एंव नवीनीकृत को दोहराते है। इस श्रृंखला के 9 वें सिविल सेवा दिवस का आयोजन विज्ञान भवन नई दिल्ली में 20-21 अप्रैल, 2015 को किया जा रहा है।

इस सम्मेलन का उद्देश्य सिविल सेवा के महत्वपूर्ण पहलुओं पर विचार करना, चर्चा करना और सुझावों का आदान प्रदान करना है। किसानों पर प्रस्तावित सम्मेलन के लिए निम्नलिखित विषयों पर सिविल सेवकों और जनता से सुझाव मांगें जा रहे हैः

स्वास्थ्य

1. ग्रामीण और शहरी भारत में - गुणवत्ता और सस्ती स्वास्थ्य देखभाल सुनिश्चित करने में तीन मुख्य चुनौतियां क्या हैं?

2. महिलाओं की स्वास्थ्य सेवा में प्रमुख कमी क्या हैं? प्राथमिकता के आधार पर क्या और कैसे किया जाना चाहिए?

3. स्वास्थ्य के लिए अवसंरचना - हम लोगों तक पहुंचने के लिए पीपीपी की भूमिका में निजी क्षेत्र की भागीदारी को कैसे शामिल कर सकते हैं? अंतरराष्ट्रीय अनुभव क्या रहा है?

शिक्षा

1. क्या हमारी शिक्षा प्रणाली में लर्निग आउटकम में सुधार लाने पर आवश्यक ध्यान दिया जाता है? इस संबंध में क्या किया जाना चाहिए? हम कैसे भागीदारी और जवाबदेही ला सकते है?

2. बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ - मुख्य चुनौतियां क्या हैं? हमारी योजनाएं कैसी है और उन्हें मध्यम और लंबी अवधि तक कैसे लागू कर सकते हैं?

पोषण

1. भारत में कुपोषण के लिए मुख्य कारण क्या है? हम इससे निपटने के लिए कैसी तैयारी कर रहे हैं?

2. साक्षरता गरीबी के बीच कुपोषण सहित स्वास्थ्य के मुद्दे पर काबू पाने में कैसे मदद कर सकती है?

3. कुपोषण से निपटने में अंतरराष्ट्रीय अनुभव कैसा रहा है?

विवरण देखें Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
26 सबमिशन दिखा रहा है
1960
sureshbabu PV 4 साल 8 महीने पहले

Sir I was listening your yesterday's speech in Bangalore on subsidiary of Gas Cylinders and you urged people in high society / Civil servants officials to leave from gas subsidiary. Sir, in Bangalore Karnataka Govt increased benifits for MLA up to 100%. Why can you urged at least BJP MLA/ MLC/MP/corporator who had declared asset before EC those who won or defeat to declare free from subsidiary of Gas. We have to show from our politicians as example from others. Later the civil sevents will obay.

500
BHARAT BHUSHAN GARG 4 साल 8 महीने पहले

मोदी जी आपसे अनुरोध है की भारत की गरीब जनता को समृद्ध बनाने के लिए एक
देशव्यापी योजना चलनी चाहिए | हर भारतीय के बैंक खाते में से हर महीने १ रुपया
इस योजना में लेना चाहिए | इस तरह हर महीने २० से ३० करोड़ रुपये
इक्कठा कर के उस रकम से एक लक्की ड्रा निकला जाए जिसमे देश के हर जिले में से
कम से कम ५ लोगों को हर महीने लखपति बनाया जा सकता है |

600
chandana sah 4 साल 8 महीने पहले

there should be policy for every school to maintained a good number of stock of course books for students.Which they should issue to each student in every class of particular yearly session, then that books should be submitted by students to the school after getting promotion to higher class.In this way same book can be reutilized easily and smartly which will lead our contry to save money on printing same book every year and ultimately we will able to save tree as well.

600
chandana sah 4 साल 8 महीने पहले

begging should be banned and it should be treated as crime.Instead all beggars should be employed as cleaners of that area or any other job in that area.Every school weather private or government should have the policy of giving free education of atleast ten beggar children in every one year session.

1000
Priya Pandey 4 साल 8 महीने पहले

In Government schools,sanitation problems are faced by girls due to negligence in providing toilets which also effects the girl's education because of this they don't want to go to schools. And due to unhygenic bathrooms,health is also badly affected.So sanitation is concerned with all the aspects of individuals and their multi-dimensional growth regarding health,education,environment,agriculture etc. Therefore this is a very vital issue to discuss.

400
Donal 4 साल 8 महीने पहले

Actually i want to Discuss with Our Gov that Modi Sir Has been started a new theme of cleaning India. but whem we look around then no where places are clean i just want to ask to our govt that is that theme started only for the posh areas if for the posh area then where the area will go. in the poor or cheap areas lot of Road are braked, water supply is not good, we are also a human being, we also want some faclities. please do needfull.