24 नवंबर, 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात के लिए भेजें अपने सुझाव

Last Date Nov 23,2019 23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर आपसे जुड़े महत्वपूर्ण विषयों ...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर आपसे जुड़े महत्वपूर्ण विषयों पर अपने विचार साझा करेंगे। मन की बात कार्यक्रम के 59 वें संस्करण के लिए प्रधानमंत्री आपसे सुझाव आमंत्रित करते हैं, ताकि इस कार्यक्रम में आपके नूतन सुझावों व प्रगतिशील विचारों को शामिल किया जा सके।

'मन की बात' के आगामी संस्करण में आप जिन विषयों व मुद्दों पर प्रधानमंत्री से चर्चा सुनना चाहते हैं, उससे संबंधित अपने सुझाव व विचार भेजना न भूलें। आप अपने सुझाव इस ओपन फोरम के माध्यम से साझा कर सकते हैं अथवा हमारे टॉल फ्री नंबर 1800-11-7800 डायल करके प्रधानमंत्री के लिए अपना सन्देश हिन्दी अथवा अंग्रेजी में रिकॉर्ड करा सकते हैं। कुछ चुनिंदा संदेशों को 'मन की बात' में भी शामिल किया जा सकता है।

इसके अलावा आप 1922 पर मिस्ड कॉल करके एसएमएस के जरिए प्राप्त लिंक का इस्तेमाल कर सीधे प्रधानमंत्री को भी सुझाव भेज सकते हैं।

24 नवंबर, 2019 को प्रातः 11:00 बजे मन की बात कार्यक्रम सुनना न भूलें

See Details Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
3265 सबमिशन दिखा रहा है
600
bsgupta gupta 42 मिनट 23 सेकंड पहले

Hon. PM
With your untiring efforts things have certainly started changing. But I strongly feel that unless the BJP govt in states also are forced to align themselves with your vision state shall not change. Development authorities are the highest source of corruption. Illegal construction is with their connivance and later they seal them to show to public. But not even one constructions is dismantled. Today "ERECT ILLEGAL BUILDING AND GET IT COMPOUNDED LATER'. Word from you can change scene

400
Vallari Doshi 42 मिनट 53 सेकंड पहले

Dear PM Sir,
Education system is the most important part for any society for the development. In India Education system must me changed. Good Education must be affordable to all the children. But it is very difficult for middle class to avail the good education. So how poor people can avail the education. you are requested to please take some initiative in this regard.

7600
satish mewada 43 मिनट 28 सेकंड पहले

महोदय,
मेरा एक सुझाव है, बदलती जीवन शैली के साथ सभी के काम करने भी तरीके भी बदल रहे है ।
लोगो को ऑफिस से घर पहुचने के बाद मार्केट जाने का समय नही मिल पाता । दुकाने खुली तो रहती है, लेकिन एक निश्चित समय तक वह सेल कर पाते है । रात्रि में 2 बजे तक बाजार खुलने की परमिशन दी जावे । व्यापारियों को इससे लाभ मिलेगा एवं देश की अर्थव्यवस्था में भी तेजी आएगी ।

29860
SURESH KUMAR GURUSAMY 53 मिनट 40 सेकंड पहले

Pranams sir. Honourable PM sir, Our Government courier services may be started with digital methods . Stamp papers are only available with stamp vendors, the sale of stamp papers may also be started in post offices. This will improve the income from post offices. Bharat Mata ki jai. jai hind

8340
Shobhit Dixit 59 मिनट 14 सेकंड पहले

My topic is emerging for now a days Honorable PM Sir you are doing great but in our country a community of talented people still suffer .they face heavy financial crisis either Some Scientists ,Poets,writers, or any other artist who have done well and been a part of the pride of the nation .the Government should make a solid plan for them of employment or in terms of pension schemes so they might not suffer from any unwanted occurrence in lack of money or resources.