Draft Guidelines on Adoption of NSQF Aligned Qualifications by Various Awarding Bodies

Last Date Aug 01,2019 00:00 AM IST (GMT +5.30 Hrs)
Submission Closed.

Public Comments are requested on the draft guidelines developed by National Skill Development Agency (NSDA) on adoption of NSQF aligned Qualifications by Various Awarding Bodies. ...

Public Comments are requested on the draft guidelines developed by National Skill Development Agency (NSDA) on adoption of NSQF aligned Qualifications by Various Awarding Bodies.

Click here to read draft guidelines developed by National Skill Development Agency (NSDA) on adoption of NSQF aligned Qualifications by Various Awarding Bodies.

See Details Hide Details
All Comments
Reset
Showing 459 Submission(s)
740
Yagnesh Shah 3 weeks 4 days ago

Before election government has declared that income tax refund shall be process shall be completed in one month time . But indpute of reminder to tax department till time refund process is still not initiated. Please expedite the matter at the earliest

590
Mandeep 3 weeks 4 days ago

विधार्थियों के लिए theory को कम किया जाए और practically ज्यादा होना चाहिए जिस से विधार्थी की रूचि ओर बढ़ेगी ओर उसका mind developed होगा

790
kamal 3 weeks 4 days ago

hindi medium me mai pdha hu jo upar ME likha hai uska arth bhi pta ni hai to mai kya tipni kru hmare desh me English ki jo samsya hai use par phle dyan dene ki awsykta hai ................ye thodi hasne wali bat hai lekin ye sahi hai

1210
Ram Kishan Maheshwari 3 weeks 4 days ago

बच्चों का केवल मात्राओं, भाष-ज्ञान और उनके याद करने की छमताओं का ही नहीं, बल्कि उनकी समझ, उनके प्रति दिन के कार्य कलापो में इनके प्रयोगों के बारे में जरूर मूल्यांकन करना चाहिए।
प्रारम्भ से ही स्कूली शिक्षा के साथ "योग विज्ञान" नाम से एक नया विषय पढ़ाना शुरू करना चाहिए। इसी के साथ व्यक्तित्व विकास और संस्कारो की शिक्षा देनी चाहिए।

1210
Ram Kishan Maheshwari 3 weeks 4 days ago

बचपन से ही हमें एकता की शक्ति के बारे में पढ़ाया जाता रहा है, तो क्या लोगों में प्यार बढ़ रहा है? क्या वास्तव में एकता में इतनी शक्ति नही है? हमको समझना पड़ेगा कि प्रॉब्लम है कहाँ? आज कुछ टीचर तो मजबूरी में ये सब पढ़ाते है क्योकि किताब में लिखा है। पर वे खुद मानते है कि ये सब केवल किताबी बाते है।
व्यक्तित्व विकास के विषयो की शिक्षा कहानियों, महान लोगों के जीवन और दिन प्रतिदिन के क्रियाकलापों से जोड़ कर, छोटे-छोटे प्रयोगों के साथ यदि दिया जाए तो बहुत प्रभावशाली सिद्ध होगा बशर्ते शिक्षकों को बखूबी...

3730
SHASHI SINHA 3 weeks 4 days ago

The Qualification by NSDA should be accepted by a government notification. Unless the Government accepts NSDA Qualification it will not be accepted by the private sector.