बीआईएआरएसी (BIRC ) इनोवेशन चैलेंज अवार्ड के लिए प्रासंगिक विषय के लिए सुझाव आमंत्रित करना

Inviting suggestions for relevant theme for BIRAC Innovation Challenge Award
Last Date Aug 16,2017 00:00 AM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

बीआईआरएसी (जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद) ...

बीआईआरएसी (जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद) बायोटेक्नोलॉजी, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, और भारत सरकार द्वारा स्थापित कंपनी अधिनियम, 2013 के धारा 8 के तहत 'नॉट-फॉर-प्रॉफिट कंपनी' है और ये जैव प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उद्योग-शिक्षा की साझेदारी को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की तरफ एक इंटरफ़ेस एजेंसी के रूप में काम कर रही है । पिछले पांच वर्षों में बीआईआरएसी(BIRC) ने कई योजनाएं, नेटवर्क और प्लेटफार्म शुरू किए हैं जो उद्योग-अकादमिक के साथ साथ नवाचार अनुसंधान के क्षेत्र में भी काम किया है। एक तरह से कहें तो फिलवक्त इस उद्योग में जो भी कमियां थी उसे दूर करने में मदद की है , कोशिश है कि अत्याधुनिक प्रौद्योगिकियों के माध्यम से, नवाचार, उच्च गुणवत्ता, और सस्ती उत्पाद विकास की सुविधा प्रदान किया जाता रहें|

अधिक जानकारी के लिए आप लॉग ऑन कर सकते हैं: http://www.birac.nic.in/s

बीआईआरएसी ने बीआईएआरएसी इनोवेशन चैलेंज अवार्ड लॉन्च करने की योजना बनाई है, ये एक प्रतियोगिता होगी। इसके तहत एक समस्या के समाधान और उसका ब्रेकथ्रू करना होगा जो फिलवक्त अनसुलझा और अभेद्य है... यह पुरस्कार एक निर्धारित समय सीमा में समस्या को हल करने में मदद करेगा और एक सस्ते उत्पाद / समाधान विकसित करेगा जो वैश्विक उत्कृष्टता का होगा। चुनौती के लिए तैयार किए गए क्षेत्र संयुक्त राष्ट्र के सशक्त विकास लक्ष्य (एसडीजी) जैसे अच्छे स्वास्थ्य और साफ सफाई को आकर्षित करने वाला हो। बीआईएआरएसी इनोवेशन चैलेंज पुरस्कार के लिए सुझाव देने वाले संकेतक हैं मसलन:

स्वास्थ्य: स्वस्थ जीवन और विशेष रूप से चिकित्सा प्रौद्योगिकी(उपकरण और निदान) में उत्पादों के विकास के माध्यम से समाज के कल्याण को बढ़ावा देना, खासकर जो भारत में स्वास्थ्य देखभाल चुनौतियों को कम कर सकता है । संकेत हैं: मातृ एवं नवजात मृत्यु दर को कम करना, संचारी रोगों की महामारियों को समाप्त करना।

स्वच्छता: सुनिश्चित करता है कि सभी समुदायों के लिए उचित स्वच्छता और साफ सफाई की व्यवस्था हो और खुले में शौच को खत्म करने की दिशा में भी इसका उपयोग किया जा सकता है। मतलब स्वच्छता की व्यवस्था हर स्तर पर हो।

हम आपको उपर्युक्त क्षेत्रों के आधार पर इन विषयों में सुझाव देने के लिए आमंत्रित करते हैं, इसके तहत हम चाहते हैं क एक विश्वव्यापी उत्कृष्ट उत्पादों के लिए आदर्श विकसित कर एक चुनौती पेश किया जा सके , लेकिने हां समाधान ऐसा जो महत्वपूर्ण मुद्दों के लिए एक सस्ता, तेज़ और प्रभावशाली हो

प्रस्तुत करने की आखिरी तिथि 15 अगस्त, 2017 है

विवरण देखें Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
98 सबमिशन दिखा रहा है
300
PRAVEEN_496 2 साल 3 महीने पहले

अपने प्रयोगो में मैने पाया हमारे हिमाचल कई भागो में आज कल ऐसे घौंगे मिलते है जो जो निचे उतरने के लिय इस्पात से भी मजबुत धागा छोड़ते है जिनहे आसानी से पालतु वनाया जा सकता । इस से बुलेट प्रुफ जैकटे और टोपिया वनाई जा सकती है जो ईस्पात से कई गुणा हल्की होगी

15900
NANDAN SHERLEKAR 2 साल 3 महीने पहले

My suggestion is to develop technology for carbon fibre by feeding carbon nanotubes or graphene to silkworms thus producing hi-tech carbon fiber which can be used in electronics and making carbon fibre components .developed countries are already into this area. I had written a letter to silk board Bangalore premier institute but no response.carbon fiber is futuristic material in aviation , automobile, defence.I am not aware of any progress done in our country in this regard could be profitable.

320
Rintil Mathew Jacob 2 साल 4 महीने पहले

I would like to suggest two themes for each category.
Health
1. Bio-Air Purifier for Medical Institutions and home (which can kill the bad bacterias and virus in the air while keeping the good ones intact).
2. Bio Technology in mosquito controlling

Sanitation
1. Cost-efficient Bio toilets for the rural areas.
2. Innovative ideas to keep the water sources clean and water habitats replenish using bio technology.

thanks.

52120
utkarsh totla 2 साल 4 महीने पहले

The main themes of the Contest can be: 1. Most innovative, efficient and economic health service or product for Rural India, 2. Most innovative organization in biotechnology research sector, 3.Best product of biotechnology in sanitation, 4. Most effective biotechnology to monitor health, 5.Biotechnology of future, 6.Individual innovator in Biotechnology in field of health and sanitation, 7. Most advanced, efficient, scalable and accepted biotechnology. these themes can be adopted.

320
Maragatharaj 2 साल 4 महीने पहले

My humble suggestion is that we should pay more concern to tuberculosis with respect to MDR-TB. Another suggestion is to develop a mobile kit to monitor malnutrition in children.
Kindly refer this link: http://thelancet.com/journals/lancet/article/PIIS0140-6736(17)30818-8/fulltext

320
Sumit S V 2 साल 4 महीने पहले

Please find my suggestions on theme for BIRACIAL
1. Biotechnology Entrepreneurship in Water and Sanitation
2. Biotechnology for a Better Tomorrow
3. Biotechnology for Food Security and Safety
4. Bioremediation for Safe Waste treatment
5. Biotechnology for Agrarian revival

1100
KAMAL SINGH 2 साल 4 महीने पहले

a suggestion which may be useful to save cows--- our ARMED /POLICE /CAPF personnel wear a belt and shoes i.e. made by leather. if govt support the mission of saving cows. each BELTDHARI shd b ordered to wear juite made belt and sports shoes on their uniform. I want to make it clear that it will not even decrease the efficiency and looking(turnout) of force/police. BUT WILL BE A GREAT STEP FOR SAVING INNOCENT ANIMALS. wearing of leather belt & shoes also harms ethical values of some pers.

1100
KAMAL SINGH 2 साल 4 महीने पहले

sir there are about 7-8 lakh CAPF personnel whose draws pay and allowances through bank, so in the forces regimental institutions like canteen,mess etc there should be clear order to sale and collection of mess dues/advance through cards. each CAPF unit shd b clearly ordered to use their credit/debit card for their internal use. This also may be applied for army also. this will enhance cashless transaction and decrease the paper works and corruption also.