#IndiaFightsCorona कोरोना वायरस

011-23978046 , ncov2019[at]gov[dot]in
MyGov ऐप डाउनलोड करेंऔर कोविड से संबंधित नवीनतम जानकारी पाएं
कोरोना संबंधी राष्ट्रीय हेल्पलाइन नम्बर
1075 स्वास्थ्य मंत्रालय
1098 चाइल्ड हेल्पलाइन
08046110007 मनोवैज्ञानिक सहायता
14567 वरिष्ठ नागरिक
14443 आयुष परामर्श
9013151515 MyGov व्हाट्सएप हेल्पडेस्क
टीकाकरण पंजीकरणRegister with  Co-WinRegister with Aarogya Setuumang के साथ पंजीकरण करें
अपना टीकाकरण
प्रमाणपत्र प्राप्त करें
मोबाइल नंबर दर्ज करें
कृपया ध्यान दें:
  • आपको वैक्सीन की कम से कम एक डोज पहले ही मिल चुकी होगी।
  • आपके पास 13/14 अंकों की लाभार्थी संदर्भ आईडी जरूर होगी।
  • प्रमाण पत्र डाउनलोड करने के लिए आपको CoWIN प्लेटफॉर्म पर पंजीकृत होना होगा। अगर CoWIN प्लेटफॉर्म पर रजिस्टर करते वक्त इस्तेमाल किया गया मोबाइल नंबर आपके मौजूदा नंबर से अलग है तो आपको इसे सत्यापित करना होगा। कृपया सुनिश्चित करें कि आपके पास वह ओटीपी उपलब्ध है।
आखिरी अपडेट : 18 Sep 2021, 08:00 IST (GMT+5:30)
कोविड-19 टीकाकरण
राज्यवार
टीकाकरण आज
2,15,98,046 पूर्व दिवस पर वैक्सीन के डोज
79,42,87,699 वैक्सीन के कुल डोज
Sep 17, 2021 तक SARS-CoV-2 (कोविड-19)
की जांच की स्थिति
14,48,833Sep 17, 2021 को कुल सैंपल की जांच हुई
55,07,80,273 कुल सैंपल की जांच की गई
राज्यवार
देश भर में मामले
3,40,639
1,583
सक्रिय
(1.02%)
कुल मामले
3,34,17,390
35,662
स्वस्थ हुए
(97.65%)
3,26,32,222
33,798
मृत्यु
(1.33%)
4,44,529
281
अंडमान और निकोबार 7,596
कुल मामले 7,596
सक्रिय 14
स्वस्थ हुए 7,453
मृत्यु 129
कुल टीके 3,98,285
आंध्र प्रदेश 20,36,179
कुल मामले 20,36,179
सक्रिय 14,797
स्वस्थ हुए 20,07,330
मृत्यु 14,052
कुल टीके 3,54,94,438
अरुणाचल प्रदेश 54,028
कुल मामले 54,028
सक्रिय 505
स्वस्थ हुए 53,252
मृत्यु 271
कुल टीके 10,52,790
असम 5,97,344
कुल मामले 5,97,344
सक्रिय 5,165
स्वस्थ हुए 5,86,391
मृत्यु 5,788
कुल टीके 2,07,44,380
बिहार 7,25,871
कुल मामले 7,25,871
सक्रिय 65
स्वस्थ हुए 7,16,148
मृत्यु 9,658
कुल टीके 4,62,86,751
चंडीगढ़ 65,172
कुल मामले 65,172
सक्रिय 34
स्वस्थ हुए 64,320
मृत्यु 818
कुल टीके 12,36,804
छत्तीसगढ़ 10,05,014
कुल मामले 10,05,014
सक्रिय 346
स्वस्थ हुए 9,91,108
मृत्यु 13,560
कुल टीके 1,54,23,972
दादरा और नागर हवेली और दमन और दीव 10,670
कुल मामले 10,670
सक्रिय 5
स्वस्थ हुए 10,661
मृत्यु 4
कुल टीके 8,23,409
दिल्ली 14,38,428
कुल मामले 14,38,428
सक्रिय 407
स्वस्थ हुए 14,12,936
मृत्यु 25,085
कुल टीके 1,54,90,724
गोवा 1,75,291
कुल मामले 1,75,291
सक्रिय 731
स्वस्थ हुए 1,71,270
मृत्यु 3,290
कुल टीके 16,98,762
गुजरात 8,25,702
कुल मामले 8,25,702
सक्रिय 154
स्वस्थ हुए 8,15,466
मृत्यु 10,082
कुल टीके 5,33,47,325
हरियाणा 7,70,705
कुल मामले 7,70,705
सक्रिय 323
स्वस्थ हुए 7,60,574
मृत्यु 9,808
कुल टीके 1,98,31,391
हिमाचल प्रदेश 2,16,639
कुल मामले 2,16,639
सक्रिय 1,580
स्वस्थ हुए 2,11,412
मृत्यु 3,647
कुल टीके 76,55,521
जम्मू और कश्मीर 3,27,621
कुल मामले 3,27,621
सक्रिय 1,440
स्वस्थ हुए 3,21,765
मृत्यु 4,416
कुल टीके 96,52,105
झारखंड 3,48,111
कुल मामले 3,48,111
सक्रिय 94
स्वस्थ हुए 3,42,884
मृत्यु 5,133
कुल टीके 1,55,18,977
कर्नाटक 29,66,194
कुल मामले 29,66,194
सक्रिय 15,988
स्वस्थ हुए 29,12,633
मृत्यु 37,573
कुल टीके 4,84,04,122
केरल 44,69,488
कुल मामले 44,69,488
सक्रिय 1,89,495
स्वस्थ हुए 42,56,697
मृत्यु 23,296
कुल टीके 3,23,64,603
लद्दाख 20,702
कुल मामले 20,702
सक्रिय 109
स्वस्थ हुए 20,386
मृत्यु 207
कुल टीके 3,23,636
लक्षद्वीप 10,356
कुल मामले 10,356
सक्रिय 7
स्वस्थ हुए 10,298
मृत्यु 51
कुल टीके 89,433
महाराष्ट्र 65,15,111
कुल मामले 65,15,111
सक्रिय 52,002
स्वस्थ हुए 63,24,720
मृत्यु 1,38,389
कुल टीके 6,99,79,524
मणिपुर 1,18,121
कुल मामले 1,18,121
सक्रिय 2,272
स्वस्थ हुए 1,14,023
मृत्यु 1,826
कुल टीके 16,12,975
मेघालय 79,206
कुल मामले 79,206
सक्रिय 1,952
स्वस्थ हुए 75,883
मृत्यु 1,371
कुल टीके 14,34,337
मिजोरम 78,067
कुल मामले 78,067
सक्रिय 14,295
स्वस्थ हुए 63,518
मृत्यु 254
कुल टीके 10,17,393
मध्य प्रदेश 7,92,380
कुल मामले 7,92,380
सक्रिय 109
स्वस्थ हुए 7,81,754
मृत्यु 10,517
कुल टीके 5,29,60,579
नागालैंड 30,780
कुल मामले 30,780
सक्रिय 471
स्वस्थ हुए 29,657
मृत्यु 652
कुल टीके 9,51,008
उड़ीसा 10,18,926
कुल मामले 10,18,926
सक्रिय 5,240
स्वस्थ हुए 10,05,564
मृत्यु 8,122
कुल टीके 2,63,98,216
पुडुचेरी 1,25,256
कुल मामले 1,25,256
सक्रिय 919
स्वस्थ हुए 1,22,509
मृत्यु 1,828
कुल टीके 8,93,213
पंजाब 6,01,206
कुल मामले 6,01,206
सक्रिय 309
स्वस्थ हुए 5,84,430
मृत्यु 16,467
कुल टीके 1,66,31,291
राजस्थान 9,54,238
कुल मामले 9,54,238
सक्रिय 104
स्वस्थ हुए 9,45,180
मृत्यु 8,954
कुल टीके 5,12,15,973
सिक्किम 30,839
कुल मामले 30,839
सक्रिय 756
स्वस्थ हुए 29,704
मृत्यु 379
कुल टीके 7,87,858
तमिलनाडु 26,42,030
कुल मामले 26,42,030
सक्रिय 16,843
स्वस्थ हुए 25,89,899
मृत्यु 35,288
कुल टीके 4,05,92,697
तेलंगाना 6,63,026
कुल मामले 6,63,026
सक्रिय 5,223
स्वस्थ हुए 6,53,901
मृत्यु 3,902
कुल टीके 2,00,65,890
त्रिपुरा 83,809
कुल मामले 83,809
सक्रिय 404
स्वस्थ हुए 82,598
मृत्यु 807
कुल टीके 35,95,568
उत्तर प्रदेश 17,09,643
कुल मामले 17,09,643
सक्रिय 191
स्वस्थ हुए 16,86,565
मृत्यु 22,887
कुल टीके 9,01,79,288
उत्तराखंड 3,43,355
कुल मामले 3,43,355
सक्रिय 282
स्वस्थ हुए 3,35,684
मृत्यु 7,389
कुल टीके 95,72,000
पश्चिम बंगाल 15,60,286
कुल मामले 15,60,286
सक्रिय 8,008
स्वस्थ हुए 15,33,649
मृत्यु 18,629
कुल टीके 4,85,31,788

COVID-19 राज्यवार टीकाकरण

COVID-19 राज्यवार विवरण

अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्र और स्लॉट की उपलब्धता पता करें

फिल्टर के द्वारा :

COVID-19 कोरोना वायरस की महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे से निपटने के लिए भारत सरकार सभी आवश्यक कदम उठा रही है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई जानकारी और सलाह को सावधानी व सही तरीके से पालन कर वायरस के स्थानीय प्रसार को रोका जा सकता है।

हेल्पलाइन नंबर

राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर: 011-23978046, 1075 (टोल फ्री)

  • अंडमान और निकोबार : 03192-232102
  • आंध्र प्रदेश : 104, 8297104104
  • अरुणाचल प्रदेश : 104, 0360-2292777, 0360-2292774, 0360-2292775
  • असम : 104
  • बिहार : 104
  • चंडीगढ़ : 9779558282
  • छत्तीसगढ़ : 104, 0771-2235091
  • दादरा और नागर हवेली और दमन और दीव : 104
  • दिल्ली : 011-22307145, 1800-111-747, 8800007722
  • गोवा : 104
  • गुजरात : 104, 079-23250818, 079-23251900
  • हरियाणा : 8558893911
  • हिमाचल प्रदेश : 104
  • जम्मू और कश्मीर : 0191-2520982, 0194-2440283
  • झारखंड : 104
  • कर्नाटक : 104, 1075, 080-46848600, 080-66692000, 9745697456, 080-1070
  • केरल : 0471-2552056
  • लद्दाख : 0198-2256462
  • लक्षद्वीप : 104
  • महाराष्ट्र : 020-26127394
  • मणिपुर : 0385-2411668, 1800-345-3818
  • मेघालय : 108, 1070
  • मिजोरम : 102
  • मध्य प्रदेश : 104
  • नागालैंड : 7005539653, 1800-345-0019
  • उड़ीसा : 9439994859
  • पुडुचेरी : 104
  • पंजाब : 104
  • राजस्थान : 104, 108
  • सिक्किम : 104
  • तमिलनाडु : 044-29510500
  • तेलंगाना : 104
  • त्रिपुरा : 112, 0381-2315879, 8794534501
  • उत्तर प्रदेश : 1800-180-5145, 6389300137, 0522-4523000, 0522-2610145
  • उत्तराखंड : 104, 0135-2722100, 0135-2724506
  • पश्चिम बंगाल : 1800-313-444-222, 033-23412600
COVID-19 वैक्सीन की जानकारी के लिए वीडियो

यदि आप 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के हैं तो कोविड-19 टीकाकरण के लिए कोविन पर अपॉइंटमेंट कैसे बुक करें?

कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारी

आखिरी अपडेट Sep 18, 2121- 07:30 hrs सभी देखें
आखिरी अपडेट Sep 18, 2121- 07:30 hrs सभी देखें

A. रजिस्ट्रेशन

1. कोविड-19 टीकाकरण के लिए मैं रजिस्ट्रेशन कहां कर सकता हूं?
आप www.cowin.gov.in लिंक के माध्यम से कोविनपोर्टल पर लॉग इन कर सकते हैं और कोविड-19 टीकाकरण के लिए ‘रजिस्टर/साइन इन योरसेल्फ’ पर क्लिक करें।
2. क्या कोई ऐसा ऐप है जिसे टीकाकरण हेतु रजिस्टर करने के लिए इंस्टॉल करना होगा?
भारत में टीकाकरण के रजिस्ट्रेशन के लिए आरोग्य सेतु के अलावा कोई भी अधिकृत ऐप नहीं मौजूद है। आपको कोविनपोर्टल के माध्यम से लॉग इन करना होगा। वैकल्पिक रुप से आप आरोग्य सेतु ऐप के माध्यम से भी रजिस्टर कर सकते हैं।
3. कोविनपोर्टल पर टीकाकरण के लिए कौन से आयु समूह रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं?
18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी नागरिक टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकते हैं।
4. क्या कोविड-19 टीकाकरण के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है?
टीकाकरण केंद्र प्रतिदिन सीमित संख्या में रजिस्ट्रेशनस्लॉट उपलब्ध कराते हैं। 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नागरिक टीकाकरण केंद्रों पर ऑनलाइन या वॉक-इन अपॉइंटमेंटशेड्यूल कर सकते हैं। हालांकि, 18-44 वर्ष के नागरिकों को टीकाकऱण केंद्र पर जाने से पहले अनिवार्य रुप से अपना रजिस्ट्रेशन तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना होगा। सामान्य तौर पर सभी नागरिकों को भीड़ मुक्त अनुभव के लिए टीकाकरण केंद्र पर जाने से पहले खुद को रजिस्टर करने तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करने की सलाह दी जाती है।
5. एक ही मोबाइल नंबर से कोविनपोर्टल पर कितने लोग रजिस्टर कर सकते हैं?
एक ही मोबाइल नंबर से अधिकतम 4 लोग टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकते हैं।
6. जिन नागरिकों के पास स्मार्ट फोन या कंप्यूटर नहीं उपलब्ध है वे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करेंगे?
एक ही मोबाइन नंबर से अधिकतम 4 लोग रजिस्टर कर सकते हैं। नागरिक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए दोस्तों या परिवार से मदद ले सकते हैं।
7. क्या मैं बिना आधार कार्ड के टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकता हूं?
हां, आप कोविनपोर्टल पर निम्न पहचान पत्र के माध्यम से रजिस्टर कर सकते हैं: a. आधार कार्ड b. ड्राइविंग लाइसेंस c. पैन कार्ड d. पासपोर्ट e. पेंशन पासबुक f. एनपीआरस्मार्ट कार्ड g. वोटर आईटी (EPIC)
8. क्या रजिस्ट्रेशन के लिए कोई शुल्क भी देय होगा?
नहीं। रजिस्ट्रेशन के लिए कोई शुल्क नहीं है।

B. अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना

1. क्या मैं टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंटकोविनपोर्टल के माध्यम से बुक कर सकता हूं?
हां, आप अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के माध्यम से कोविनपोर्टल पर लॉग इन करके टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं। सिस्टम वह टीकाकरण केंद्र प्रदर्शित करेगा जो नागरिक द्वारा रजिस्ट्रेशनपोर्टल पर डाले गए उम्र के अनुसार टीकाकरण की अनुमति प्रदान करते हैं।
2. एक नागरिक यदि 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र का है और दूसरा 18 या उससे अधिक उम्र का तो इसके लिए क्या विकल्प हैं?
यदि एक नागरिक की उम्र 45 या उससे अधिक उम्र है और दूसरे नागरिक की उम्र 18 से 44 वर्ष है और दोनों एक साथ अपॉइंटमेंट चाहते हैं तो केवल प्राइवेट पेडटीकाकरण केंद्र या राज्य की नीति के अनुसार टीकाकरण केंद्र ही उपलब्ध होंगे। हालांकि यह भी हो सकता है कि कुछ अस्पताल जो 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नागरिकों का टीकाकरण कर रहे हैं, वे कम उम्र के नागरिकों को अपॉइंटमेंट न दें। इस दशा में आपको एक-एक करके बुकिंग करना होगा।
3. क्या मैं यह जान सकता हूं कि टीकाकरण केंद्र पर कौन सी वैक्सीन लगाई जा रही है?
हां, प्राइवेट अस्पतालों में टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंटशेड्यूल करते समय सिस्टम में आपको केंद्र के नाम के साथ कौन सी वैक्सीन लगाई जाएगी यह भी पता चलेगा। सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन का नाम नहीं भी पता चल सकता है।
4. क्या मैं अपॉइंटमेंटस्लिपडाउनलोड कर सकता/सकती हूं?
हां, अपॉइंटमेंटशेड्यूल होने के बाद अपॉइंटमेंटस्लिपडाउनलोड किया जा सकता है।
5. मुझे निकटतमटीकाकरण केंद्र की जानकारी कैसे मिलेगी?
आप पिनकोड के माध्यम से या अपना राज्य तथा जिला चुनकर कोविनपोर्टल (या आरोग्य सेतु ऐप) पर अपने निकटतमटीकाकरण केंद्र खोज सकते हैं।
6. यदि मैं अपने अपॉइंटमेंट के दिन नहीं जा सकता हूं तब क्या होगा? क्या मैं अपना अपॉइंटमेंटरिशेड्यूल कर सकता हूं?
अपॉइंटमेंट को किसी भी समय रिशेड्यूल किया जा सकता है। यदि आप टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट के दिन नहीं जा सकते हैं तो आप‘रिशेड्यूल’ टैब पर क्लिक करके अपना अपॉइंटमेंटरिशेड्यूल कर सकते हैं।
7. क्या मेरे पास अपॉइंटमेंट रद्द करने का विकल्प है?
हां, आप पहले से शेड्यूल किए गए अपॉइंटमेंट को कैंसल कर सकते हैं। आप अपॉइंटमेंट को रिशेड्यूल भी कर सकते हैं औऱ कोई अन्य दिन या टाइम स्लॉट अपने सुविधानुसार चुन सकते हैं।
8. मुझे टीकाकरण के लिए दिन तथा समय कहां से मालूम होगा?
एक बार अपॉइंटमेंट तय होने के बाद आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर अपॉइंटमेंट के लिए चुने गए टीकाकरण केंद्र, दिन तथा समय का एसएमएस प्राप्त होगा। आप अपॉइंटमेंटस्लिप भी डाउनलोड कर सकते हैं या इसे अपने स्मार्ट फोन में रख सकते हैं।
9. क्या बिना अपॉइंटमेंट के मेरा टीकाकरण संभव है?
45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिक अपना अपॉइंटमेंट ऑनलाइन शेड्यूल कर सकते हैं या फिर टीकाकऱण केंद्र पर वॉक इन भी कर सकते हैं। 18-44 वर्ष के नागरिकों के लिए टीकाकरण से पहले रजिस्टर करना तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना अनिवार्य है।

C. दूसरे डोज का निर्धारण

1. मुझे टीकाकरण की दूसरी डोज कब लेनी चाहिए?
हां, इस बात की सलाह दी जाती है कि टीकाकरण के पूरे लाभ के लिए वैक्सीन की दोनों डोज ली जाए। दोनों डोज एक ही वैक्सीन की होनी चाहिए।
2. मुझे टीकाकरण की दूसरी डोज कब लेनी चाहिए?
यह सलाह दी जाती है कि कोवैक्सीन की दूसरी डोज, पहली डोज के 4 से 6 सप्ताह के अंतराल पर ली जानी चाहिए। कोविशील्ड के लिए यह अंतराल 4 से 8 सप्ताह करने की सलाह दी जाती है, हालांकि 6-8 सप्ताह के अंतराल से सुरक्षा बढ़ जाती है। आप अपने सुविधा के अनुसार दूसरे डोज की दिन चुन सकते हैं।
3. क्या सभी टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त है?
नहीं। वर्तमान में सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त है तथा 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये का शुल्क देय है। 1 मई से 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए सरकारी सुविधाओं में टीकाकरण मुफ्त होगा। 18 से 44 वर्ष के नागरिकों के लिए भुगतान की नीति की घोषणा राज्य करेगी। टीकाकरण के लिए प्राइवेट सुविधाओं पर शुल्क देय होगा, आप बुकिंग के समय प्रत्येक वैक्सीन का मूल्य देख सकते हैं।
4. अगर मुझे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से संबंधित कोई समस्या है तो मैं किसे संपर्क कर सकता हूं?
आप कोविड-19 टीकाकरण तथा कोविनसॉफ्टवेयर संबंधी जानकारी तथा गाइडेंस के लिए राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर‘1075’ पर संपर्क कर सकते हैं।

D. टीकाकरण

1. क्या सभी टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त है?
नहीं। वर्तमान में सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त है तथा 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये का शुल्क देय है। 1 मई से 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए सरकारी सुविधाओं में मुफ्त टीकाकरण जारी रहेग । 18 से 44 वर्ष के नागरिकों के लिए भुगतान की नीति की घोषणा राज्य करेगी। टीकाकरण के लिए प्राइवेट सुविधाओं पर शुल्क देय होगा, आप बुकिंग के समय प्रत्येक वैक्सीन का मूल्य देख सकते हैं।
2. क्या मैं वैक्सीन का मूल्य देख सकता हूं?
हां। अपॉइंटमेंट के समय सिस्टमटीकाकरण केंद्र के नाम के नीचे टीके की कीमत दर्शाया जाएगा।
3. क्या मैं वैक्सीन का मूल्य देख सकता हूं?
सिस्टमअपॉइंटमेंट के निर्धारण के समय प्रत्येक टीकाकरण केंद्र में लगाए जा रहे वैक्सीन का नाम दिखाएगी। नागरिक अपनी पसंद के अनुसार टीकाकरण केंद्र चुन सकते हैं। हालांकि सरकारी सुविधाओं में चुनने की सुविधा नहीं होगी।
4. टीकाकरण के दूसरे डोज के समय मुझे क्या सावधानियां बरतनी चाहिए?
टीकाकरण केंद्रों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि दूसरी डोज प्राप्त करने वाले नागरिकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उन्हें पहली डोज भी उसी वैक्सीन की दी गई है तथा पहली डोज को दूसरी डोज से 28 दिन पहले दिया गया हो। आप टीकाकरण करने वाले कर्मी के साथ पहले डोज की तारीख शेयर करनी चाहिए। आपको पहली डोज के समय जारी किए गए वैक्सीन प्रमाणपत्र को ले जाना चाहिए।
5. क्या मैं किसी दूसरे राज्य/जिले में वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा सकता हूं?
हां, आप किसी भी राज्य/जिले में टीकाकरण करवा सकते हैं। इसके लिए एकमात्र शर्त यही है कि आप उसी केंद्र पर टीकाकरण कराएंगे जो वही वैक्सीन लगा रहा है जो आपने पहली डोज में ली थी।
6. टीकाकरण के लिए मुझे कौन से डॉक्यूमेंट अपने साथ ले जाना चाहिए?
आपको अपने साथ कोविनपोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करते समय इस्तेमाल किए गए पहचान पत्र तथा अपने अपॉइंटमेंटस्लिप की प्रिंटआउट/स्क्रिनशॉट लेकर जाना होगा।
7. मैंने कोविनपोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराया है लेकिन मैं अभी बुकिंग नहीं करा पा रहा हूं क्यों मुझे अपने लोकेशन के पास कोई टीकाकरण केंद्र नहीं दिख रहा है?मुझे क्या करना चाहिए?
हां यह संभव है कि आपके आस-पास किसी भी केंद्र ने अपने टीकाकरण कार्यक्रम को अभी तक पब्लिश न किया हो। आप कुछ समय तक इंतजार कर सकते हैं, जब कि आपके आस-पास टीकाकरण केंद्र सक्रिय न हो जाएं और अपनी सुविधाएं शुरु करें।

E. टीकाकरण प्रमाण पत्र

1. मुझे टीकाकरण प्रमाणपत्र की आवश्यकता क्यों है?
सरकार द्वारा जारी किया गया कोविडटीकाकरण प्रमाणपत्र (CVC) मेंलाभार्थियों को दी गई वैक्सीन और टीकाकरण की आगामी तिथि का जिक्र होता है। यह नागरिकों को इस बात का प्रमाण भी प्रदान करता है कि उनका टीकाकरण हो चुका है, विशेषकर यात्रा के लिए आवश्यक होने पर। टीकाकरण न सिर्फ लोगों को बीमारी से बचाता है बल्कि वायरस फैलने के खतरे को भी कम करता है। इसलिए भविष्य में कुछ सामाजिक गतिविधियों तथा अंतर्राष्ट्रीय यात्रा के लिए इसकी आवश्यकता हो सकती है। इसलिए कोविन पर प्रमाणपत्र का बिल्ट-इन फीचर है, जिसे कोविनपोर्टल पर उपलब्ध जानकारी के आधार डिजिटली सत्यापित किया जा सकता है।
2. टीकाकरण प्रमाण पत्र प्रदान करने की जिम्मेदारी किसकी है?
आपके प्रमाणपत्र को जेनेरेट करने तथा इसकी एक मुद्रित प्रति प्रदान की जिम्मेदारी टीकाकरण केंद्र की है। कृपया टीकाकरण केंद्र से प्रमाणपत्र अवश्य ले लें। प्राइवेट अस्पतालों के टीकाकरण शुल्क में ही मुद्रित प्रति प्रदान करने का शुल्क भी शामिल है।
3. मैं टीकाकरण प्रमाणपत्र कहां से डाउनलोड कर सकता हूं?
आप टीकाकरण प्रमाणपत्र कोविनपोर्टल (cowin.gov.in) या आरोग्य सेतु ऐप या डिजी-लॉकर का के जरिए आसान तरीके से डाउनलोड किया जा सकत है। आप रजिस्ट्रेशन के समय उपयोग किए गए मोबाइल नंबर के जरिए भी इसे प्राप्त कर सकते हैं।

F. दुष्प्रभाव की रिपोर्टिंग

1. टीकाकरण से होने वाले दुष्प्रभाव की दशा में किससे संपर्क करना होगा?
आप निम्न में से किसी से भी संपर्क कर सकते हैं: a. हेल्पलाइन नंबर: +91-11-23978046 (टोलफ्री- 1075) b. टेक्निकलहेल्पलाइननंबर: 0120-4473222 c. हेल्पलाइनईमेल आईडी: support@cowin.gov.in आप सलाह के लिए उस टीकाकरण केंद्र पर भी संपर्क कर सकते हैं जहां से आपने टीकाकरण कराया है।

गतिविधियां

मिथक की सच्चाई/तथ्य देखें

#MyGovMythsBusters #MyGovFactCheck

सभी उम्र के लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हो सकते हैं। बुजुर्ग, और पहले से बीमार लोग (जैसे कि अस्थमा, डायबिटीज़, हृदय रोग) इस वायरस के संक्रमण से गंभीर रूप से बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं

symptom

कोविड-19 के लक्षण

  • तेज बुखार तेज बुखार
  • सूखी खांसी सूखी खांसी
  • गले में खराश गले में खराश
  • सांस लेने में तकलीफ सांस लेने में तकलीफ

यह कैसे फैलता है

  • खाँसने या छींकने से हवा के जरिए खाँसने या छींकने से हवा के जरिए
  • व्यक्तिगत संपर्क व्यक्तिगत संपर्क
  • संक्रमित वस्तुओं संक्रमित वस्तुओं
  • जन समूह जन समूह

रोकथाम के उपाय

  • बार-बार हाथ धोएं बार-बार हाथ धोएं
  • फेस मास्क पहनें फेस मास्क पहनें
  • बीमार लोगों के संपर्क से बचें बीमार लोगों के संपर्क से बचें
  • खांसते या छींकते वक्त मुंह ढक कर रखें खांसते या छींकते वक्त मुंह ढक कर रखें

वीडियो

मिथक की सच्चाई । कोरोना के लेकर हर ओर कई अफवाहें फैली है। ये है उसकी सच्चाई।

  • ठंड का मौसम और बर्फ कोरोनावायरस को नहीं मार सकते।
  • कोरोनो वायरस को मारने में हैंड ड्रायर प्रभावी नहीं हैं
  • ऐसा कोई प्रमाण नहीं है कि नियमित रूप से सलाइन से नाक धोने पर कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव होता है।
  • गर्म और आर्द्र जलवायु वाले क्षेत्रों में कोरोनावायरस का संक्रमण हो सकता है।
  • अल्ट्रावायलेट का उपयोग त्वचा को कीटाणुमुक्त बनाने के लिए नहीं किया जाना चाहिए । यह त्वचा में जलन पैदा कर सकता है।
  • लहसुन में कुछ रोगाणुरोधी गुण हो सकते हैं। हालांकि, इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि लहसुन खाने से लोग वायरस के संक्रमण से बच जाते हैं।
  • मच्छर के काटने से कोरोना वायरस नहीं फैल सकता है।
  • थर्मल स्कैनर ऐसे लोगों की पहचान कर सकते हैं जिन्हें बुखार है। लेकिन वे कोरोना वायरस के संक्रमित लोगों का पता नहीं लगा सकते।
  • एंटीबायोटिक्स वायरस के खिलाफ काम नहीं करते हैं, एंटीबायोटिक्स केवल बैक्टीरिया से हुए संक्रमण को दूर करते हैं।
  • ऐसा कोई सबूत नहीं है कि कुत्ते या बिल्ली जैसे जानवर/ पालतू जानवर से कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है।
  • अल्कोहल या क्लोरीन का छिड़काव उन वायरस को मारने में मदद नहीं करेगा जो शरीर में प्रवेश कर चुके हैं। सिर्फ ऊपर से कीटाणुमुक्त रखने के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है।
  • आज तक, कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने या इसके संक्रमण के इलाज के लिए कोई प्रामाणिक दवा उपलब्ध नहीं है।
  • गर्म स्नान से कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव होता है।
  • न्यूमोनिया के खिलाफ टीके, जैसे कि न्यूमोकोकल वैक्सीन और हीमोफिलस इन्फ्लुएंजा टाइप बी (एचआईबी) वैक्सीन, कोरोनावायरस से बचाव नहीं करते हैं।
नोट : कंटेंट का स्रोत विश्व स्वास्थ्य संगठन