#IndiaFightsCorona कोरोना वायरस

011-23978046 , ncov2019[at]gov[dot]in
MyGov ऐप डाउनलोड करेंऔर कोविड से संबंधित नवीनतम जानकारी पाएं
कोरोना संबंधी राष्ट्रीय हेल्पलाइन नम्बर
1075 स्वास्थ्य मंत्रालय
1098 चाइल्ड हेल्पलाइन
08046110007 मनोवैज्ञानिक सहायता
14567 वरिष्ठ नागरिक
14443 आयुष परामर्श
9013151515 MyGov व्हाट्सएप हेल्पडेस्क
टीकाकरण पंजीकरणRegister with  Co-WinRegister with Aarogya Setuumang के साथ पंजीकरण करें
अपना टीकाकरण
प्रमाणपत्र प्राप्त करें
मोबाइल नंबर दर्ज करें
कृपया ध्यान दें:
  • आपको वैक्सीन की कम से कम एक डोज पहले ही मिल चुकी होगी।
  • आपके पास 13/14 अंकों की लाभार्थी संदर्भ आईडी जरूर होगी।
  • प्रमाण पत्र डाउनलोड करने के लिए आपको CoWIN प्लेटफॉर्म पर पंजीकृत होना होगा। अगर CoWIN प्लेटफॉर्म पर रजिस्टर करते वक्त इस्तेमाल किया गया मोबाइल नंबर आपके मौजूदा नंबर से अलग है तो आपको इसे सत्यापित करना होगा। कृपया सुनिश्चित करें कि आपके पास वह ओटीपी उपलब्ध है।
आखिरी अपडेट : 23 Oct 2021, 08:00 IST (GMT+5:30)
कोविड-19 टीकाकरण
राज्यवार
टीकाकरण आज
68,48,417 पूर्व दिवस पर वैक्सीन के डोज
1,01,30,28,411 वैक्सीन के कुल डोज
Oct 22, 2021 तक SARS-CoV-2 (कोविड-19)
की जांच की स्थिति
13,64,681Oct 22, 2021 को कुल सैंपल की जांच हुई
59,84,31,162 कुल सैंपल की जांच की गई
राज्यवार
देश भर में मामले
1,73,728
2,017
सक्रिय
(0.51%)
कुल मामले
3,41,59,562
16,326
स्वस्थ हुए
(98.16%)
3,35,32,126
17,677
मृत्यु
(1.33%)
4,53,708
666
अंडमान और निकोबार 7,646
कुल मामले 7,646
सक्रिय 6
स्वस्थ हुए 7,511
मृत्यु 129
कुल टीके 4,79,643
आंध्र प्रदेश 20,62,781
कुल मामले 20,62,781
सक्रिय 5,398
स्वस्थ हुए 20,43,050
मृत्यु 14,333
कुल टीके 4,94,77,255
अरुणाचल प्रदेश 55,075
कुल मामले 55,075
सक्रिय 141
स्वस्थ हुए 54,654
मृत्यु 280
कुल टीके 12,75,290
असम 6,08,126
कुल मामले 6,08,126
सक्रिय 3,866
स्वस्थ हुए 5,98,296
मृत्यु 5,964
कुल टीके 2,69,26,347
बिहार 7,26,045
कुल मामले 7,26,045
सक्रिय 30
स्वस्थ हुए 7,16,354
मृत्यु 9,661
कुल टीके 6,43,06,471
चंडीगढ़ 65,320
कुल मामले 65,320
सक्रिय 28
स्वस्थ हुए 64,472
मृत्यु 820
कुल टीके 14,43,226
छत्तीसगढ़ 10,05,799
कुल मामले 10,05,799
सक्रिय 214
स्वस्थ हुए 9,92,013
मृत्यु 13,572
कुल टीके 2,10,61,573
दादरा और नागर हवेली और दमन और दीव 10,679
कुल मामले 10,679
सक्रिय 4
स्वस्थ हुए 10,671
मृत्यु 4
कुल टीके 10,09,344
दिल्ली 14,39,526
कुल मामले 14,39,526
सक्रिय 340
स्वस्थ हुए 14,14,095
मृत्यु 25,091
कुल टीके 1,99,72,801
गोवा 1,77,819
कुल मामले 1,77,819
सक्रिय 600
स्वस्थ हुए 1,73,862
मृत्यु 3,357
कुल टीके 21,03,909
गुजरात 8,26,378
कुल मामले 8,26,378
सक्रिय 165
स्वस्थ हुए 8,16,126
मृत्यु 10,087
कुल टीके 6,83,40,786
हरियाणा 7,71,133
कुल मामले 7,71,133
सक्रिय 122
स्वस्थ हुए 7,60,962
मृत्यु 10,049
कुल टीके 2,52,58,059
हिमाचल प्रदेश 2,22,312
कुल मामले 2,22,312
सक्रिय 1,483
स्वस्थ हुए 2,17,096
मृत्यु 3,733
कुल टीके 88,78,504
जम्मू और कश्मीर 3,31,494
कुल मामले 3,31,494
सक्रिय 870
स्वस्थ हुए 3,26,195
मृत्यु 4,429
कुल टीके 1,41,19,283
झारखंड 3,48,562
कुल मामले 3,48,562
सक्रिय 183
स्वस्थ हुए 3,43,244
मृत्यु 5,135
कुल टीके 1,96,65,040
कर्नाटक 29,85,227
कुल मामले 29,85,227
सक्रिय 8,920
स्वस्थ हुए 29,38,312
मृत्यु 37,995
कुल टीके 6,30,20,436
केरल 48,97,884
कुल मामले 48,97,884
सक्रिय 81,490
स्वस्थ हुए 47,88,629
मृत्यु 27,765
कुल टीके 3,78,85,171
लद्दाख 20,896
कुल मामले 20,896
सक्रिय 40
स्वस्थ हुए 20,648
मृत्यु 208
कुल टीके 3,57,732
लक्षद्वीप 10,365
कुल मामले 10,365
सक्रिय 0
स्वस्थ हुए 10,314
मृत्यु 51
कुल टीके 1,00,086
महाराष्ट्र 65,99,850
कुल मामले 65,99,850
सक्रिय 27,747
स्वस्थ हुए 64,32,138
मृत्यु 1,39,965
कुल टीके 9,45,81,669
मणिपुर 1,23,107
कुल मामले 1,23,107
सक्रिय 906
स्वस्थ हुए 1,20,294
मृत्यु 1,907
कुल टीके 18,76,229
मेघालय 83,269
कुल मामले 83,269
सक्रिय 698
स्वस्थ हुए 81,128
मृत्यु 1,443
कुल टीके 16,88,777
मिजोरम 1,16,689
कुल मामले 1,16,689
सक्रिय 9,636
स्वस्थ हुए 1,06,653
मृत्यु 400
कुल टीके 12,07,679
मध्य प्रदेश 7,92,729
कुल मामले 7,92,729
सक्रिय 80
स्वस्थ हुए 7,82,126
मृत्यु 10,523
कुल टीके 6,81,03,587
नागालैंड 31,689
कुल मामले 31,689
सक्रिय 245
स्वस्थ हुए 30,766
मृत्यु 678
कुल टीके 11,68,907
उड़ीसा 10,37,523
कुल मामले 10,37,523
सक्रिय 4,197
स्वस्थ हुए 10,25,025
मृत्यु 8,301
कुल टीके 3,53,73,278
पुडुचेरी 1,27,621
कुल मामले 1,27,621
सक्रिय 454
स्वस्थ हुए 1,25,314
मृत्यु 1,853
कुल टीके 11,04,515
पंजाब 6,02,163
कुल मामले 6,02,163
सक्रिय 230
स्वस्थ हुए 5,85,382
मृत्यु 16,551
कुल टीके 2,16,49,939
राजस्थान 9,54,396
कुल मामले 9,54,396
सक्रिय 32
स्वस्थ हुए 9,45,410
मृत्यु 8,954
कुल टीके 6,13,47,362
सिक्किम 31,842
कुल मामले 31,842
सक्रिय 183
स्वस्थ हुए 31,266
मृत्यु 393
कुल टीके 9,57,382
तमिलनाडु 26,92,949
कुल मामले 26,92,949
सक्रिय 13,531
स्वस्थ हुए 26,43,431
मृत्यु 35,987
कुल टीके 5,45,05,797
तेलंगाना 6,69,932
कुल मामले 6,69,932
सक्रिय 3,963
स्वस्थ हुए 6,62,025
मृत्यु 3,944
कुल टीके 2,98,87,325
त्रिपुरा 84,376
कुल मामले 84,376
सक्रिय 98
स्वस्थ हुए 83,462
मृत्यु 816
कुल टीके 40,35,565
उत्तर प्रदेश 17,10,069
कुल मामले 17,10,069
सक्रिय 85
स्वस्थ हुए 16,87,085
मृत्यु 22,899
कुल टीके 12,44,49,000
उत्तराखंड 3,43,799
कुल मामले 3,43,799
सक्रिय 166
स्वस्थ हुए 3,36,235
मृत्यु 7,398
कुल टीके 1,10,47,787
पश्चिम बंगाल 15,84,492
कुल मामले 15,84,492
सक्रिय 7,577
स्वस्थ हुए 15,57,882
मृत्यु 19,033
कुल टीके 7,05,61,973

COVID-19 राज्यवार टीकाकरण

COVID-19 राज्यवार विवरण

अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्र और स्लॉट की उपलब्धता पता करें

फिल्टर के द्वारा :

COVID-19 कोरोना वायरस की महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे से निपटने के लिए भारत सरकार सभी आवश्यक कदम उठा रही है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई जानकारी और सलाह को सावधानी व सही तरीके से पालन कर वायरस के स्थानीय प्रसार को रोका जा सकता है।

हेल्पलाइन नंबर

राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर: 011-23978046, 1075 (टोल फ्री)

  • अंडमान और निकोबार : 03192-232102
  • आंध्र प्रदेश : 104, 8297104104
  • अरुणाचल प्रदेश : 104, 0360-2292777, 0360-2292774, 0360-2292775
  • असम : 104
  • बिहार : 104
  • चंडीगढ़ : 9779558282
  • छत्तीसगढ़ : 104, 0771-2235091
  • दादरा और नागर हवेली और दमन और दीव : 104
  • दिल्ली : 011-22307145, 1800-111-747, 8800007722
  • गोवा : 104
  • गुजरात : 104, 079-23250818, 079-23251900
  • हरियाणा : 8558893911
  • हिमाचल प्रदेश : 104
  • जम्मू और कश्मीर : 0191-2520982, 0194-2440283
  • झारखंड : 104
  • कर्नाटक : 104, 1075, 080-46848600, 080-66692000, 9745697456, 080-1070
  • केरल : 0471-2552056
  • लद्दाख : 0198-2256462
  • लक्षद्वीप : 104
  • महाराष्ट्र : 020-26127394
  • मणिपुर : 0385-2411668, 1800-345-3818
  • मेघालय : 108, 1070
  • मिजोरम : 102
  • मध्य प्रदेश : 104
  • नागालैंड : 7005539653, 1800-345-0019
  • उड़ीसा : 9439994859
  • पुडुचेरी : 104
  • पंजाब : 104
  • राजस्थान : 104, 108
  • सिक्किम : 104
  • तमिलनाडु : 044-29510500
  • तेलंगाना : 104
  • त्रिपुरा : 112, 0381-2315879, 8794534501
  • उत्तर प्रदेश : 1800-180-5145, 6389300137, 0522-4523000, 0522-2610145
  • उत्तराखंड : 104, 0135-2722100, 0135-2724506
  • पश्चिम बंगाल : 1800-313-444-222, 033-23412600
COVID-19 वैक्सीन की जानकारी के लिए वीडियो

यदि आप 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के हैं तो कोविड-19 टीकाकरण के लिए कोविन पर अपॉइंटमेंट कैसे बुक करें?

कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारी

आखिरी अपडेट Oct 23, 2121- 14:30 hrs सभी देखें
आखिरी अपडेट Oct 23, 2121- 14:30 hrs सभी देखें

A. रजिस्ट्रेशन

1. कोविड-19 टीकाकरण के लिए मैं रजिस्ट्रेशन कहां कर सकता हूं?
आप www.cowin.gov.in लिंक के माध्यम से कोविनपोर्टल पर लॉग इन कर सकते हैं और कोविड-19 टीकाकरण के लिए ‘रजिस्टर/साइन इन योरसेल्फ’ पर क्लिक करें।
2. क्या कोई ऐसा ऐप है जिसे टीकाकरण हेतु रजिस्टर करने के लिए इंस्टॉल करना होगा?
भारत में टीकाकरण के रजिस्ट्रेशन के लिए आरोग्य सेतु के अलावा कोई भी अधिकृत ऐप नहीं मौजूद है। आपको कोविनपोर्टल के माध्यम से लॉग इन करना होगा। वैकल्पिक रुप से आप आरोग्य सेतु ऐप के माध्यम से भी रजिस्टर कर सकते हैं।
3. कोविनपोर्टल पर टीकाकरण के लिए कौन से आयु समूह रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं?
18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी नागरिक टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकते हैं।
4. क्या कोविड-19 टीकाकरण के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है?
टीकाकरण केंद्र प्रतिदिन सीमित संख्या में रजिस्ट्रेशनस्लॉट उपलब्ध कराते हैं। 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नागरिक टीकाकरण केंद्रों पर ऑनलाइन या वॉक-इन अपॉइंटमेंटशेड्यूल कर सकते हैं। हालांकि, 18-44 वर्ष के नागरिकों को टीकाकऱण केंद्र पर जाने से पहले अनिवार्य रुप से अपना रजिस्ट्रेशन तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना होगा। सामान्य तौर पर सभी नागरिकों को भीड़ मुक्त अनुभव के लिए टीकाकरण केंद्र पर जाने से पहले खुद को रजिस्टर करने तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करने की सलाह दी जाती है।
5. एक ही मोबाइल नंबर से कोविनपोर्टल पर कितने लोग रजिस्टर कर सकते हैं?
एक ही मोबाइल नंबर से अधिकतम 4 लोग टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकते हैं।
6. जिन नागरिकों के पास स्मार्ट फोन या कंप्यूटर नहीं उपलब्ध है वे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करेंगे?
एक ही मोबाइन नंबर से अधिकतम 4 लोग रजिस्टर कर सकते हैं। नागरिक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए दोस्तों या परिवार से मदद ले सकते हैं।
7. क्या मैं बिना आधार कार्ड के टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकता हूं?
हां, आप कोविनपोर्टल पर निम्न पहचान पत्र के माध्यम से रजिस्टर कर सकते हैं: a. आधार कार्ड b. ड्राइविंग लाइसेंस c. पैन कार्ड d. पासपोर्ट e. पेंशन पासबुक f. एनपीआरस्मार्ट कार्ड g. वोटर आईटी (EPIC)
8. क्या रजिस्ट्रेशन के लिए कोई शुल्क भी देय होगा?
नहीं। रजिस्ट्रेशन के लिए कोई शुल्क नहीं है।

B. अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना

1. क्या मैं टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंटकोविनपोर्टल के माध्यम से बुक कर सकता हूं?
हां, आप अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के माध्यम से कोविनपोर्टल पर लॉग इन करके टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं। सिस्टम वह टीकाकरण केंद्र प्रदर्शित करेगा जो नागरिक द्वारा रजिस्ट्रेशनपोर्टल पर डाले गए उम्र के अनुसार टीकाकरण की अनुमति प्रदान करते हैं।
2. एक नागरिक यदि 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र का है और दूसरा 18 या उससे अधिक उम्र का तो इसके लिए क्या विकल्प हैं?
यदि एक नागरिक की उम्र 45 या उससे अधिक उम्र है और दूसरे नागरिक की उम्र 18 से 44 वर्ष है और दोनों एक साथ अपॉइंटमेंट चाहते हैं तो केवल प्राइवेट पेडटीकाकरण केंद्र या राज्य की नीति के अनुसार टीकाकरण केंद्र ही उपलब्ध होंगे। हालांकि यह भी हो सकता है कि कुछ अस्पताल जो 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नागरिकों का टीकाकरण कर रहे हैं, वे कम उम्र के नागरिकों को अपॉइंटमेंट न दें। इस दशा में आपको एक-एक करके बुकिंग करना होगा।
3. क्या मैं यह जान सकता हूं कि टीकाकरण केंद्र पर कौन सी वैक्सीन लगाई जा रही है?
हां, प्राइवेट अस्पतालों में टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंटशेड्यूल करते समय सिस्टम में आपको केंद्र के नाम के साथ कौन सी वैक्सीन लगाई जाएगी यह भी पता चलेगा। सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन का नाम नहीं भी पता चल सकता है।
4. क्या मैं अपॉइंटमेंटस्लिपडाउनलोड कर सकता/सकती हूं?
हां, अपॉइंटमेंटशेड्यूल होने के बाद अपॉइंटमेंटस्लिपडाउनलोड किया जा सकता है।
5. मुझे निकटतमटीकाकरण केंद्र की जानकारी कैसे मिलेगी?
आप पिनकोड के माध्यम से या अपना राज्य तथा जिला चुनकर कोविनपोर्टल (या आरोग्य सेतु ऐप) पर अपने निकटतमटीकाकरण केंद्र खोज सकते हैं।
6. यदि मैं अपने अपॉइंटमेंट के दिन नहीं जा सकता हूं तब क्या होगा? क्या मैं अपना अपॉइंटमेंटरिशेड्यूल कर सकता हूं?
अपॉइंटमेंट को किसी भी समय रिशेड्यूल किया जा सकता है। यदि आप टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट के दिन नहीं जा सकते हैं तो आप‘रिशेड्यूल’ टैब पर क्लिक करके अपना अपॉइंटमेंटरिशेड्यूल कर सकते हैं।
7. क्या मेरे पास अपॉइंटमेंट रद्द करने का विकल्प है?
हां, आप पहले से शेड्यूल किए गए अपॉइंटमेंट को कैंसल कर सकते हैं। आप अपॉइंटमेंट को रिशेड्यूल भी कर सकते हैं औऱ कोई अन्य दिन या टाइम स्लॉट अपने सुविधानुसार चुन सकते हैं।
8. मुझे टीकाकरण के लिए दिन तथा समय कहां से मालूम होगा?
एक बार अपॉइंटमेंट तय होने के बाद आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर अपॉइंटमेंट के लिए चुने गए टीकाकरण केंद्र, दिन तथा समय का एसएमएस प्राप्त होगा। आप अपॉइंटमेंटस्लिप भी डाउनलोड कर सकते हैं या इसे अपने स्मार्ट फोन में रख सकते हैं।
9. क्या बिना अपॉइंटमेंट के मेरा टीकाकरण संभव है?
45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिक अपना अपॉइंटमेंट ऑनलाइन शेड्यूल कर सकते हैं या फिर टीकाकऱण केंद्र पर वॉक इन भी कर सकते हैं। 18-44 वर्ष के नागरिकों के लिए टीकाकरण से पहले रजिस्टर करना तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना अनिवार्य है।

C. दूसरे डोज का निर्धारण

1. मुझे टीकाकरण की दूसरी डोज कब लेनी चाहिए?
हां, इस बात की सलाह दी जाती है कि टीकाकरण के पूरे लाभ के लिए वैक्सीन की दोनों डोज ली जाए। दोनों डोज एक ही वैक्सीन की होनी चाहिए।
2. मुझे टीकाकरण की दूसरी डोज कब लेनी चाहिए?
यह सलाह दी जाती है कि कोवैक्सीन की दूसरी डोज, पहली डोज के 4 से 6 सप्ताह के अंतराल पर ली जानी चाहिए। कोविशील्ड के लिए यह अंतराल 4 से 8 सप्ताह करने की सलाह दी जाती है, हालांकि 6-8 सप्ताह के अंतराल से सुरक्षा बढ़ जाती है। आप अपने सुविधा के अनुसार दूसरे डोज की दिन चुन सकते हैं।
3. क्या सभी टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त है?
नहीं। वर्तमान में सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त है तथा 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये का शुल्क देय है। 1 मई से 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए सरकारी सुविधाओं में टीकाकरण मुफ्त होगा। 18 से 44 वर्ष के नागरिकों के लिए भुगतान की नीति की घोषणा राज्य करेगी। टीकाकरण के लिए प्राइवेट सुविधाओं पर शुल्क देय होगा, आप बुकिंग के समय प्रत्येक वैक्सीन का मूल्य देख सकते हैं।
4. अगर मुझे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से संबंधित कोई समस्या है तो मैं किसे संपर्क कर सकता हूं?
आप कोविड-19 टीकाकरण तथा कोविनसॉफ्टवेयर संबंधी जानकारी तथा गाइडेंस के लिए राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर‘1075’ पर संपर्क कर सकते हैं।

D. टीकाकरण

1. क्या सभी टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त है?
नहीं। वर्तमान में सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त है तथा 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये का शुल्क देय है। 1 मई से 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए सरकारी सुविधाओं में मुफ्त टीकाकरण जारी रहेग । 18 से 44 वर्ष के नागरिकों के लिए भुगतान की नीति की घोषणा राज्य करेगी। टीकाकरण के लिए प्राइवेट सुविधाओं पर शुल्क देय होगा, आप बुकिंग के समय प्रत्येक वैक्सीन का मूल्य देख सकते हैं।
2. क्या मैं वैक्सीन का मूल्य देख सकता हूं?
हां। अपॉइंटमेंट के समय सिस्टमटीकाकरण केंद्र के नाम के नीचे टीके की कीमत दर्शाया जाएगा।
3. क्या मैं वैक्सीन का मूल्य देख सकता हूं?
सिस्टमअपॉइंटमेंट के निर्धारण के समय प्रत्येक टीकाकरण केंद्र में लगाए जा रहे वैक्सीन का नाम दिखाएगी। नागरिक अपनी पसंद के अनुसार टीकाकरण केंद्र चुन सकते हैं। हालांकि सरकारी सुविधाओं में चुनने की सुविधा नहीं होगी।
4. टीकाकरण के दूसरे डोज के समय मुझे क्या सावधानियां बरतनी चाहिए?
टीकाकरण केंद्रों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि दूसरी डोज प्राप्त करने वाले नागरिकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उन्हें पहली डोज भी उसी वैक्सीन की दी गई है तथा पहली डोज को दूसरी डोज से 28 दिन पहले दिया गया हो। आप टीकाकरण करने वाले कर्मी के साथ पहले डोज की तारीख शेयर करनी चाहिए। आपको पहली डोज के समय जारी किए गए वैक्सीन प्रमाणपत्र को ले जाना चाहिए।
5. क्या मैं किसी दूसरे राज्य/जिले में वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा सकता हूं?
हां, आप किसी भी राज्य/जिले में टीकाकरण करवा सकते हैं। इसके लिए एकमात्र शर्त यही है कि आप उसी केंद्र पर टीकाकरण कराएंगे जो वही वैक्सीन लगा रहा है जो आपने पहली डोज में ली थी।
6. टीकाकरण के लिए मुझे कौन से डॉक्यूमेंट अपने साथ ले जाना चाहिए?
आपको अपने साथ कोविनपोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करते समय इस्तेमाल किए गए पहचान पत्र तथा अपने अपॉइंटमेंटस्लिप की प्रिंटआउट/स्क्रिनशॉट लेकर जाना होगा।
7. मैंने कोविनपोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराया है लेकिन मैं अभी बुकिंग नहीं करा पा रहा हूं क्यों मुझे अपने लोकेशन के पास कोई टीकाकरण केंद्र नहीं दिख रहा है?मुझे क्या करना चाहिए?
हां यह संभव है कि आपके आस-पास किसी भी केंद्र ने अपने टीकाकरण कार्यक्रम को अभी तक पब्लिश न किया हो। आप कुछ समय तक इंतजार कर सकते हैं, जब कि आपके आस-पास टीकाकरण केंद्र सक्रिय न हो जाएं और अपनी सुविधाएं शुरु करें।

E. टीकाकरण प्रमाण पत्र

1. मुझे टीकाकरण प्रमाणपत्र की आवश्यकता क्यों है?
सरकार द्वारा जारी किया गया कोविडटीकाकरण प्रमाणपत्र (CVC) मेंलाभार्थियों को दी गई वैक्सीन और टीकाकरण की आगामी तिथि का जिक्र होता है। यह नागरिकों को इस बात का प्रमाण भी प्रदान करता है कि उनका टीकाकरण हो चुका है, विशेषकर यात्रा के लिए आवश्यक होने पर। टीकाकरण न सिर्फ लोगों को बीमारी से बचाता है बल्कि वायरस फैलने के खतरे को भी कम करता है। इसलिए भविष्य में कुछ सामाजिक गतिविधियों तथा अंतर्राष्ट्रीय यात्रा के लिए इसकी आवश्यकता हो सकती है। इसलिए कोविन पर प्रमाणपत्र का बिल्ट-इन फीचर है, जिसे कोविनपोर्टल पर उपलब्ध जानकारी के आधार डिजिटली सत्यापित किया जा सकता है।
2. टीकाकरण प्रमाण पत्र प्रदान करने की जिम्मेदारी किसकी है?
आपके प्रमाणपत्र को जेनेरेट करने तथा इसकी एक मुद्रित प्रति प्रदान की जिम्मेदारी टीकाकरण केंद्र की है। कृपया टीकाकरण केंद्र से प्रमाणपत्र अवश्य ले लें। प्राइवेट अस्पतालों के टीकाकरण शुल्क में ही मुद्रित प्रति प्रदान करने का शुल्क भी शामिल है।
3. मैं टीकाकरण प्रमाणपत्र कहां से डाउनलोड कर सकता हूं?
आप टीकाकरण प्रमाणपत्र कोविनपोर्टल (cowin.gov.in) या आरोग्य सेतु ऐप या डिजी-लॉकर का के जरिए आसान तरीके से डाउनलोड किया जा सकत है। आप रजिस्ट्रेशन के समय उपयोग किए गए मोबाइल नंबर के जरिए भी इसे प्राप्त कर सकते हैं।

F. दुष्प्रभाव की रिपोर्टिंग

1. टीकाकरण से होने वाले दुष्प्रभाव की दशा में किससे संपर्क करना होगा?
आप निम्न में से किसी से भी संपर्क कर सकते हैं: a. हेल्पलाइन नंबर: +91-11-23978046 (टोलफ्री- 1075) b. टेक्निकलहेल्पलाइननंबर: 0120-4473222 c. हेल्पलाइनईमेल आईडी: support@cowin.gov.in आप सलाह के लिए उस टीकाकरण केंद्र पर भी संपर्क कर सकते हैं जहां से आपने टीकाकरण कराया है।

गतिविधियां

मिथक की सच्चाई/तथ्य देखें

#MyGovMythsBusters #MyGovFactCheck

सभी उम्र के लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हो सकते हैं। बुजुर्ग, और पहले से बीमार लोग (जैसे कि अस्थमा, डायबिटीज़, हृदय रोग) इस वायरस के संक्रमण से गंभीर रूप से बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं

symptom

कोविड-19 के लक्षण

  • तेज बुखार तेज बुखार
  • सूखी खांसी सूखी खांसी
  • गले में खराश गले में खराश
  • सांस लेने में तकलीफ सांस लेने में तकलीफ

यह कैसे फैलता है

  • खाँसने या छींकने से हवा के जरिए खाँसने या छींकने से हवा के जरिए
  • व्यक्तिगत संपर्क व्यक्तिगत संपर्क
  • संक्रमित वस्तुओं संक्रमित वस्तुओं
  • जन समूह जन समूह

रोकथाम के उपाय

  • बार-बार हाथ धोएं बार-बार हाथ धोएं
  • फेस मास्क पहनें फेस मास्क पहनें
  • बीमार लोगों के संपर्क से बचें बीमार लोगों के संपर्क से बचें
  • खांसते या छींकते वक्त मुंह ढक कर रखें खांसते या छींकते वक्त मुंह ढक कर रखें

वीडियो

मिथक की सच्चाई । कोरोना के लेकर हर ओर कई अफवाहें फैली है। ये है उसकी सच्चाई।

  • ठंड का मौसम और बर्फ कोरोनावायरस को नहीं मार सकते।
  • कोरोनो वायरस को मारने में हैंड ड्रायर प्रभावी नहीं हैं
  • ऐसा कोई प्रमाण नहीं है कि नियमित रूप से सलाइन से नाक धोने पर कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव होता है।
  • गर्म और आर्द्र जलवायु वाले क्षेत्रों में कोरोनावायरस का संक्रमण हो सकता है।
  • अल्ट्रावायलेट का उपयोग त्वचा को कीटाणुमुक्त बनाने के लिए नहीं किया जाना चाहिए । यह त्वचा में जलन पैदा कर सकता है।
  • लहसुन में कुछ रोगाणुरोधी गुण हो सकते हैं। हालांकि, इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि लहसुन खाने से लोग वायरस के संक्रमण से बच जाते हैं।
  • मच्छर के काटने से कोरोना वायरस नहीं फैल सकता है।
  • थर्मल स्कैनर ऐसे लोगों की पहचान कर सकते हैं जिन्हें बुखार है। लेकिन वे कोरोना वायरस के संक्रमित लोगों का पता नहीं लगा सकते।
  • एंटीबायोटिक्स वायरस के खिलाफ काम नहीं करते हैं, एंटीबायोटिक्स केवल बैक्टीरिया से हुए संक्रमण को दूर करते हैं।
  • ऐसा कोई सबूत नहीं है कि कुत्ते या बिल्ली जैसे जानवर/ पालतू जानवर से कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है।
  • अल्कोहल या क्लोरीन का छिड़काव उन वायरस को मारने में मदद नहीं करेगा जो शरीर में प्रवेश कर चुके हैं। सिर्फ ऊपर से कीटाणुमुक्त रखने के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है।
  • आज तक, कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने या इसके संक्रमण के इलाज के लिए कोई प्रामाणिक दवा उपलब्ध नहीं है।
  • गर्म स्नान से कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव होता है।
  • न्यूमोनिया के खिलाफ टीके, जैसे कि न्यूमोकोकल वैक्सीन और हीमोफिलस इन्फ्लुएंजा टाइप बी (एचआईबी) वैक्सीन, कोरोनावायरस से बचाव नहीं करते हैं।
नोट : कंटेंट का स्रोत विश्व स्वास्थ्य संगठन