चंडीगढ़ को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए सुझाव दे

Give Suggestions on how to make Chandigarh a Smart City
Last Date Jan 01,2016 00:00 AM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

स्मार्ट सिटी प्रतियोगिता के स्टेज 2 अत्याधिक महत्वपूर्ण है क्योंकि ...

स्मार्ट सिटी प्रतियोगिता के स्टेज 2 अत्याधिक महत्वपूर्ण है क्योंकि प्रत्येक शहर के स्मार्ट सिटी प्रस्ताव में मॉडल चुना शामिल माना जाता है जिसमे (एससीपी) पुनःसंयोजन या पुनर्विकास या ग्रीनफील्ड विकास का एक समावेश है, और इसके साथ ही स्मार्ट समाधान के साथ पान सिटी आयाम शामिल है। स्मार्ट सिटी प्रस्ताव (एससीपी) भी शहर निवासियों और अन्य हितधारकों के साथ आयोजित विचार-विमर्श की रूपरेखा तैयार करेंगे। इसके अलावा, स्मार्ट सिटी के लिए एक दृष्टिकोण तैयार हो गया है, और इसे बेहतर जीवन जीने के लिए अपने शहर की पेशकश की और अधिक करने की जरूरत है, आकांक्षाओं और स्थानीय लोगों की इच्छाओं से उभरना चाहिए।

स्मार्ट सिटी की सबसे बढ़ा चालक स्मार्ट नागरिक है। स्मार्ट शहरों में नागरिक भागीदारी ऊपर उठाया है। तो, स्मार्ट सिटी प्रस्ताव (SDAs शहर की और इस तरह के निवासी कल्याण संघों (RWAs), कर दाताओं के संघ (TPAs), वरिष्ठ नागरिकों और स्लम निवासियों संघों के रूप में विभिन्न समूहों की सक्रिय भागीदारी के माध्यम से निवासियों के साथ विचार-विमर्श के बाद नामित नागरिक केंद्रित हो जाएगा)।

विचार विमर्श के दौरान, इस तरह के अत्यंत चिंता का विषय है, जरूरत है और नागरिकों और विभिन्न समूहों की प्राथमिकताओं के क्षेत्रों के रूप में विभिन्न मुद्दों / संघों की पहचान की जाएगी और लोगों को केंद्रित समाधान विकसित किया जाएगा।

चंडीगढ़ प्रशासन ‘चंडीगढ़ को स्मार्ट सिटी’ घोषित करने के लिए अपने नागरिको से इस सन्दर्भ में उनके विचार साँझा करेगा| अभियान एक स्मार्ट सिटी टैग के लिए शहर की खोज के लिए समर्थन जुटाने के लिए चंडीगढ़ प्रशासन के प्रयास में जनता की भागीदारी बढ़ानी है। चंडीगढ़ के निवासी ‘चंडीगढ़ को स्मार्ट ‘ घोषित करने के लिए अपने मत , सुझाव इत्यादि चंडीगढ़ की सरकारी मोबाइल एप्प पर भी भेज सकते है।

विवरण देखें Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
618 सबमिशन दिखा रहा है
500
MANAN SHARMA 4 साल 6 महीने पहले

My post is about warning system for earthquakes leveraging use of telecommunication. Earthquakes are generally detected only few moments before it strikes. So when ever a quake is detected an automatic computerized system should should stop all phone calls and just ring as many phones as possible because quake warning even a minute before can save most of lives.

300
SAJEEV KODAKARA SANKARAN 4 साल 6 महीने पहले

Dear Respected Sir,
I have some ideas to clean city and avoid traffic problems.
(1)Allow public transport only inside city and encourage using it.(2) Provide Smart card by RTA authority to use all public transport. (3)Encourage to use bicycles and electric motor vehicles. (4)Give important to use water transport. (5)In the border of the city, make huge parking facilities for privet vehicles. (6)Smart city should be green city, make small gardens, children’s park and water fountains.

300
Sameer Pande 4 साल 6 महीने पहले

The real task for making chandigarh a smart city is Education. The parameters should be
1. How many students from schools have represented India in various Olympiad movements at international level.
2. How many students are really Digitally Literate - this does not mean just internet surfing or Google search or Facebook. How many can use Computers in efficient manner.
3. How many residents have wormiculture in their bunglow - means how less you give your trash outside the bunglow.

600
AJAY WALIA 4 साल 7 महीने पहले

To begin with, the authorities should consider plying of vehicles on the basis of their last digit on date wise basis viz. the vehicles ending with digit one should not be allowed to ply on 1st 11th and 31st of a month and so on. This will definitely reduce traffic on roads and a step further in making Chandigarh a smart city. It can be applied on weekly basis lateron if some positive result is not achieved.

600
AJAY WALIA 4 साल 7 महीने पहले

To reduce traffic on roads,Chandigarh Police should also start challan of vehicles having last digit 1 and 6 on Mondays; 2 and 7 on Tuesdays' 3 and 8 on Wednendays; 4 and 9 on Thursdays and 5 and 0 on Fridays.In this way, 20% vehicles will remain off road every day.Instead of introduction of even/odd policy, the above proposal would be more effective and will definitely reduce traffic and vehicles pollutionto some extent and there will also not be much harassment to general public in general.