विज्ञान से जुडी रचनात्मकताओं का जश्न

Celebrating Creativity in Science
आरंभ करने की तिथि :
Dec 10, 2021
अंतिम तिथि :
Jun 30, 2022
23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

आईआईएसएफ 2021 का विवरण ...

आईआईएसएफ 2021 का विवरण

इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल (IISF), विज्ञान भारती के सहयोग के साथ विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय एवं पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की एक पहल है, जो कि देश के उत्कृष्ट वैज्ञानिकों के नेतृत्व में विज्ञान के क्षेत्र में स्वदेशी भावना को आगे बढ़ाने का आंदोलन है।

IISF का मुख्य उद्देश्य विज्ञान का उत्सव मनाना है। स्वस्थ, समृद्ध और सार्थक जीवन के लिए आम नागरिकों को विज्ञान के साथ आनंदमय और मनोरंजक तरीके से जोड़ना आवश्यक है। अपने रचनात्मक कार्यक्रम और गतिविधियों के माध्यम से IISF, भारत एवं विश्व भर के लोगों को और वैज्ञानिक समुदाय को एक साथ आने और मानवता की भलाई के लिए विज्ञान के प्रचार-प्रसार के लिए अवसर प्रदान करता है।

आईआईएसएफ का विजन

समृद्ध भारत के लिए विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार में रचनात्मकता को बढ़ावा देना है।

आईआईएसएफ का उद्देश्य

आजादी का अमृत महोत्सव के पांच स्तंभों से जुड़े विभिन्न कार्यक्रम और गतिविधियों के माध्यम से विज्ञान की उपलब्धियों का जश्न मनाने के लिए भारत और दुनिया भर के रचनात्मक लोगों को शामिल करना है।

IISF 2021 के बारे में अधिक जानने के लिए विजिट करेः https://scienceindiafest.org/

अपने विचार और सुझाव साझा करने की अंतिम तिथि 30th जून, 2022 है।

रीसेट
2047 सबमिशन दिखा रहा है
12260
Atul Shukla 1 day 23 घंटे पहले

Sir,
Time has come to go for green energy to meet target 2070.Human waste if convertible into green manure can do wonders to double farmer's income,We can export our green manure to desert riven countries like our cow-dung .This will lessen the burden of Govt. subsidy on fertilizer. Only thing is to channelise our IZZatghar manure to green waste.It will create huge job opportunities. 120 crore×0.5 kg =@@per day green manure .Big potential for innovation and to act,Sir.

6520
Anil k kharecha 2 दिन 8 घंटे पहले

ग्रामीण क्षेत्र में लाखो बचे, युवा ऐसे हे जो नई खोज, नया आविस्कार करते है पर उसको मोका नही मीलताहै आगे आनेका फिर उसका जुगाड, आविस्कार बहोत बहोत तो युट्यूब तक आके रुक जाता है सरकार को ऐसे ऊभरते युवा सायंटीस्ट के लिए कुछ करना चाहिए

2909280
Vipin Kumar 2 दिन 13 घंटे पहले

विज्ञान वह व्यवस्थित ज्ञान या विद्या है जो विचार, अवलोकन, अध्ययन और प्रयोग से मिलती है, जो किसी अध्ययन के विषय की प्रकृति या सिद्धान्तों को जानने के लिये किये जाते हैं। विज्ञान शब्द का प्रयोग ज्ञान की ऐसी शाखा के लिये भी करते हैं, जो तथ्य, सिद्धान्त और तरीकों को प्रयोग और परिकल्पना से स्थापित और व्यवस्थित करती है। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि प्रकृति के क्रमबद्ध एवं सुव्यवस्थित को हम विज्ञान कहते है।