मिशन पोषण अभियान 2.0 टैगलाइन के साथ लोगो डिजाइन करें

Design a logo with a tagline for Mission Poshan 2.0
अंतिम दिनांकSep 15,2021 23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

देश में कुपोषण को कम करने के उद्देश्य से 2018 में पोषण अभियान (समग्र ...

देश में कुपोषण को कम करने के उद्देश्य से 2018 में पोषण अभियान (समग्र पोषण के लिए प्रधानमंत्री की व्यापक योजना) शुरू किया गया था। कुपोषण में कमी के लक्ष्यों की प्राप्ति में तेजी लाने के लिए इसे अब मिशन पोषण 2.0 के रूप में और मजबूत किया जा रहा है।

पोषण 2.0 का उद्देश्य पूरे भारत में 0 से 6 साल के आयु के बच्चों, किशोर लड़कियों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं की पोषण की स्थिति को बदलना है। यह सुनिश्चित करेगा कि वे पर्याप्त कैलोरी का उपभोग करें, साथ ही अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए आयरन, विटामिन ए, विटामिन बी12 आदि जैसे सूक्ष्म पोषक तत्वों की पर्याप्त खपत के लिए आहार विविधता को बढ़ावा दें।

गर्भाधान के बाद से जीवन के पहले 1000 दिनों पर इसका एक मजबूत ध्यान होगा, जोकि बच्चे के जीवन में उसके शारीरिक और मानसिक विकास के लिए सबसे महत्वपूर्ण अवधि है। इसका उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि बच्चे स्वस्थ चाइल्ड केयर प्रथाओं और बच्चों और उनकी माताओं के लिए स्वस्थ, विविध और स्थानीय रूप से उपलब्ध आहार के माध्यम से अपनी पूर्ण शारीरिक और संज्ञानात्मक क्षमता में विकसित हों।

यह मिशन तीन स्तंभों पर बनाया गया है:
• सुशासन
• सामुदायिक भागीदारी और स्वामित्व पर जोर देने के साथ मंत्रालयों और स्थानीय सरकारी निकायों में सम्मिलन
• पदाधिकारियों का क्षमता निर्माण

मिशन को अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए डिजाइन किया गया है:
• स्वस्थ आहार और बच्चों की देखभाल के तरीकों के बारे में जागरूकता बढ़ाना
• पोषक-उद्यानों के माध्यम से और फूड फोर्टिफिकेशन के माध्यम से स्वस्थ और विविध आहार तक पहुंच प्रदान करना
• पोषण संबंधी आवश्यकताओं की कमी को पूरा करने के लिए गर्भवती महिलाओं, स्तनपान कराने वाली माताओं और 6 माह से 6 वर्ष तक के बच्चों को उनकी स्थानीय आंगनवाड़ियों के माध्यम से गुणवत्तापूर्ण पूरक पोषण प्रदान करना। गुणवत्ता और वैज्ञानिक मानदंडों को पूरा करने के लिए इस पूरक पोषण का परीक्षण किया जाएगा
• गंभीर रूप से कुपोषित बच्चों का समय पर इलाज सुनिश्चित करना

देश में कुपोषण से सभी नागरिकों की सामूहिक भागीदारी से लड़ा जा सकता है। इसीलिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने माईगव के सहयोग से मिशन पोषण 2.0 के शुभारंभ के अवसर पर "टैगलाइन" के साथ एक "लोगो" डिजाइन करने के लिए सभी क्षेत्रों के नागरिकों को आमंत्रित किया है।

जीतने वाली प्रविष्टि को 1 लाख रुपये का नकद पुरस्कार मिलेगा।

जमा करने की अंतिम तिथि 15 सितंबर 2021 है

नियमों और शर्तों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

इस कार्य के लिए प्राप्त हुई प्रविष्टियाँ
2789
कुल
0
स्वीकृत
2789
समीक्षाधीन
रीसेट