'स्मार्ट वार्ड' डिजाइन संगोष्ठी

‘Smart Ward’ Design for Bihar Sharif
Last Date Oct 24,2017 00:00 AM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत, बिहारशायरिफ नगर निगम, नागरिकों को ...

स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत, बिहारशायरिफ नगर निगम, नागरिकों को 'स्मार्ट वार्ड' डिजाइन संगोष्ठी में भाग लेने के लिए आमंत्रित करता है। इस संगोष्ठी का उद्देश्य निवासियों, सार्वजनिक प्रतिनिधियों और सरकारी अधिकारियों के साथ 'स्मार्ट वार्ड' अवधारणा के बारे में चर्चा करना है। 'स्मार्ट वार्ड' ढांचे की रूपरेखा नीचे प्रस्तुत की गई है। हम आपको अपने अभिनव विचारों / प्रतिक्रिया / सुझावों को साझा करने के लिए अनुरोध करते हैं।

'स्मार्ट वार्ड' संकल्पना

स्मार्ट वार्ड बेहतर संसाधन उपयोग दक्षता, स्थानीय स्वशासन सशक्त, स्थानीय क्षेत्र स्तर पर आश्वासित बुनियादी सुविधाओं तक पहुंच पर केंद्रित है। 'स्मार्ट वार्ड' में अपने समुदाय के सभी वर्गों के सतत और समावेशी विकास शामिल हैं, ताकि वे उच्च स्तर के जीवन जीने का आनंद उठा सकें। एक निश्चित समय सीमा में निम्नलिखित बुनियादी सुविधाओं, परिणामों और सेवाओं की 100 प्रतिशत उपलब्धि, स्मार्ट वार्ड की ओर बढ़ने के लिए एक शर्त है:
• सभी के लिए घर - शौचालय, सुरक्षित पीने के पानी और नियमित शक्ति तक पहुंच के साथ।

• हर घर में विविध आजीविका के अवसर हैं।
• एसएचजी और युवाओं के कौशल विकास तक पहुंच है।
• खुला शौच प्रतिबंधित करें।
• कार्यात्मक ठोस / तरल कचरा प्रबंधन प्रणाली है।
• सामुदायिक भागीदारी द्वारा तैयार किए गए प्रत्येक वार्ड की अपनी गतिशील विकास योजना है।
• हर प्रभाग के अपने खुले स्थान पर हरे पेड़ होते हैं।
• प्रत्येक वार्ड में कार्यात्मक जल संरक्षण और कटाई संरचनाएं हैं।
• प्रत्येक वार्ड में कार्यात्मक नागरिक सूचना केंद्र है।
• प्रत्येक वार्ड में दूरसंचार / इंटरनेट कनेक्टिविटी है।
• वार्ड सभा को वर्ष में चार बार न्यूनतम दो-तिहाई उपस्थिति के साथ आयोजित किया जाता है।
• प्रत्येक वार्ड में कार्यात्मक शिकायत निवारण प्रणाली है।
• निवासियों की सुरक्षा, विशेष रूप से बच्चों, महिलाओं और बुजुर्ग।
• पैदल यात्री और गैर-मोटर वाहन परिवहन अनुकूल मार्ग।
• अक्षय ऊर्जा जैसे छत के ऊपर सौर ऊर्जा का उपयोग।
• मनोरंजक गतिविधियों के लिए खुली जगह, विरासत भवनों का अभिनव प्रयोग।
• प्राकृतिक संसाधनों जैसे नदियों और तालाबों का संरक्षण।
• रोकने योग्य मातृ मौत और शिशु मृत्युओं को समाप्त करें।
• 12 वीं कक्षा तक लड़कों और लड़कियों के शून्य स्कूल छोड़ने।
• आंगनवाड़ी केंद्रों, प्राथमिक विद्यालयों और स्वास्थ्य केंद्रों तक आसान पहुंच।
• कुपोषण मुक्त (9 वर्ष से कम उम्र के बच्चे) ।
• कोई लड़की-बाल विवाह को समाप्त करें (18 वर्ष से कम आयु के लड़कियों) ।

See Details Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
34509 सबमिशन दिखा रहा है
107070
SANAT KUMAR VAJPAYEE 2 साल 3 सप्ताह पहले

केंद्र सरकार सभी राज्यो के साथ एक व्यवस्था बनाये,जिसमे एक भारतीय नागरिक की सभी जरूरते एक जगह,एक साथ पूरी की जाये।सरकार इसके लिए डाक घर या किसी अन्य सरकारी ईमारत का प्रयोग करे,जहाँ एक जगह एक छत के नीचे आपको; आपके जरुरत की सभी सुविधाये दी जाये।गृह सेवा केंद्र में डाक📫,रेल🚆 टिकट,हवाई टिकट✈,बैंक💰,राशन डिपो📦,शिकायत केंद्र 🔫,शॉपिंग🗑, एलपीजी🛢 गैस,बिजली बिल🔌,किसान सहायता🌾,पुलिस सहायता⛓,पहचान पत्र 🖱, आधार कार्ड 💳,निर्भया सहायता 🎎,पैन कार्ड💳,ड्राइविंग लाइसेंस🏷,पानी का बिल 📃आदि सभी सुविधाओं

2400
GIRDHARI LAL SHARMA 2 साल 3 सप्ताह पहले

बच्चों की पढ़ाई लिखाई को ध्यान में रखते हुए ऐसी निति बनायीं जाए की शिक्षकों की निरंकुशता पर अंकुश लग सके ा

2400
GIRDHARI LAL SHARMA 2 साल 3 सप्ताह पहले

स्मार्ट वार्ड के हर नागरिक को सरकारी अनुदान और लोन की सुविधा दी जाए ताकि हर नागरिक अपना काम धाम खुद चुन सके।

1120
Rakesh Kumar Jain 2 साल 3 सप्ताह पहले

Provision of doorstep services to the aged,elderly, infirm and suffering people of the ward.
Since the children and youth do not really understand the variety of problems faced by the agedand suffering their mindset needs to be changed to enable them to empathise and provide real service so that such people give them their blessings rather than cursed.