विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग

Created : 18/09/2017
Click to participate above Activities

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग की स्थापना मई 1971 में विज्ञान और प्रौद्योगिकी के नए क्षेत्रों को बढ़ावा देने एवं देश में इस क्षेत्र की विभिन्न गतिविधियों के आयोजन, समन्वय और बढ़ावा देने के लिए एक नोडल विभाग की भूमिका निभाने के उद्देश्य से की गई थी। निम्नलिखित विशिष्ट परियोजनाओं और कार्यक्रमों के लिए विभाग की प्रमुख जिम्मेदारियां हैं:

1. विज्ञान और प्रौद्योगिकी से संबंधित नीतियों का निर्माण।
2. मंत्रिमंडल के वैज्ञानिक सलाहकार समिति (एसएसीसी) से संबंधित मामले।
3. उभरते हुए क्षेत्रों पर विशेष जोर देते हुए विज्ञान और प्रौद्योगिकी के नए क्षेत्रों को बढ़ावा देना।
4. विज्ञान और प्रौद्योगिकी से संबंध रखने वाले विभिन्न क्षेत्रों का समन्वय और एकीकरण जिसमें कई संस्थान और विभागों की रुचि एवं क्षमता हैं।
5. आवश्यकता अनुसार, वैज्ञानिक एवं तकनीकी सर्वेक्षण, अनुसंधान डिजाइन, विकास करना या वित्तीय रूप से सहायता करना।
6. वैज्ञानिक अनुसंधान संस्थान, वैज्ञानिक संघ और निकायों को सहायता एवं अनुदान प्रदान करना।